गरीब और जरूरतमंदों की सेवा ही है ईश्वर की पूजा का सर्वश्रेष्ठ माध्यम: भाटी

मकर संक्रांति पर 501जरूरतमंदों को बाटे कंबल, मिठाई और खाद्य सामग्री

गरीब और जरूरतमंदों की सेवा ही है ईश्वर की पूजा का सर्वश्रेष्ठ माध्यम: भाटी

डीग (भरतपुर, राजस्थान/ पदम जैन) डीग उपखड़ के गांव बहज में भामाशाह गांव  मेवला महाराजपुर जिला फरीदाबाद निवासी विजय सिंह भाटी द्वारा 501  गरीब एवं जरूरतमंदों को  कंबल, मिठाई तथा दाल चावल के किटों का वितरण किया गया ।कार्यक्रम की अध्यक्षता बाल किशन दास महाराज गोवर्धन ने की। मुख्य अतिथि पृर्व सरपंच धर्मवीर एडवोकेट तथा विशिष्ट अतिथि चंद्रपाल सिंह एवं पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष दीपेंद्र सिंह थे। पिछले 10 वर्षों से गांव बहज में यह पुनीत कार्य करते आ रहे हैं भामाशाह भाटी ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि गरीब की सेवा ही ईश्वर की पूजा का सर्वश्रेष्ठ माध्यम है। प्रत्येक व्यक्ति को परमात्मा द्वारा दिए गए धन में से कुछ अंश गरीब और जरूरतमंदों की मदद में अवश्य खर्च करना चाहिए। मकर सक्रांति के इस त्यौहार पर गरीब तबके के लोग खुशी से त्योहार मना सकें इसलिए उनको कंबल मिठाई के पैकेट और दाल चावल के किटो का वितरण किया गया है। कार्यक्रम का संचालन कवि चंद्रभान वर्मा चंद्र  ने किया। इस अवसर पर सरपंच सुभाष बाबू , बृजेश वार्ड पंच, पप्पी भूरा पहलवान ,खेमचंद आदि सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे