जांच रिपोर्ट में अमानक पाए गए खाद्य पदार्थ: चार फर्मों पर लगाया 75 हजार रुपये का जुर्माना

जांच रिपोर्ट में अमानक पाए गए खाद्य पदार्थ: चार फर्मों पर लगाया 75 हजार रुपये का जुर्माना

हनुमानगढ़ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा खाद्य सामग्री का निर्माण एवं विक्रय करने वाले संस्थानों पर खाद्य सामग्री की सैम्पलिंग की कार्यवाही में चार फर्मों से लिए गए सैम्पल अमानक पाए गए हैं। अमानक पाए जाने पर न्यायिक कार्यवाही के तहत श्रीमान न्याय निर्णयन अधिकारी एवं अपर जिला मजिस्ट्रेट, हनुमानगढ़ ने चार फर्मों पर 75 रुपए का जुर्माना लगाया है
खाद्य सुरक्षा अधिकारी जीतसिंह यादव ने बताया कि जिले में सघन अभियान चलाते हुए खाद्य सामग्री का निर्माण एवं विक्रय करने वाले संस्थानों पर नियमित निरीक्षण की कार्यवाही की थी। इसी के तहत खाद्य सामग्री में मिलावट होने का अंदेशा पाए जाने पर संस्थानों से खाद्य सामग्री के सैम्पल संग्रहित कर बीकानेर एवं जयपुर में जांच के लिए भिजवाए गए। इसी कार्यवाही के तहत 16 अगस्त 2021 को हनुमानगढ़ के मै. शक्ति मावा भण्डार से अमानक मावा पाए जाने पर 40 हजार रुपए जुर्माना लगाया गया। इसी तरह, 8 जुलाई रवरी 2021 को मै. विशु आइसक्रीम रावतसर से अमानक आइसक्रीम पाए जाने पर 15 हजार जुर्माना, 5 अगस्त 2021 को रावतसर के मै. सुरेन्द्र सिंह दूध विक्रेता से अमानक दूध पाए जाने पर 10 हजार का जुर्माना एवं 29 जनवरी 2022 को हनुमानगढ़ की फर्म मै. श्री गजानंद दूध विक्रेता से अमानक दूध पाए जाने पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया। श्रीमान न्याय निर्णयन अधिकारी एवं अपर जिला मजिस्ट्रेट, हनुमानगढ़ ने उक्त फर्मों पर 75 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया। फर्मों को निर्देश दिए गए कि एक माह में जुर्माना अदा न करवाने की स्थिति में फर्म का लाइसेंस निरस्त कर जुर्माना वसूली की कार्यवाही की जाएगी

दो दिन में लिए सात सैम्पल:- श्रीयादव ने बताया कि इस दौरान चिकित्सा विभाग का निरीक्षण अभियान जारी रहा। बुधवार एवं गुरुवार को हनुमानगढ़ में खाद्य सामग्री बनाने व विक्रय किए जाने पर संस्थानों पर निरीक्षण कर कार्यवाही की गई। कार्यवाही में टैक्नीशियन दलीप सिंह ने खाद्य सामग्री को बनाने एवं बेचान करने वाले संस्थानों की जांच की एवं सैम्पल एकत्र किए। उन्होंने बताया कि दो दिन सात सैम्पल संग्रहित किए गए। उन्होंने बताया कि मै. धूडिय़ा ट्रेडिंग से आयोडाइज्ड नमक, मै. कुमकुम सेल्स से बिस्किट बटर बाइट, मै. गुप्ता सेल्स कॉर्पाेरेशन से पंतजंलि ब्राण्ड का सरसों का तेल, मै. मैक्स ट्रेडर्स से कनोला ऑयल जिओ ब्राण्ड, मै. सलाटा स्वीट्स से मीठा मावा, मै. श्रीगंगानगर दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड सरस डेयरी से एफसीएम मिल्क एवं मक्खन का सैम्पल संग्रहित कर बीकानेर लैब में भिजवाया गया। उन्होंने बताया कि जिले में अगर कहीं पर मिलावटी खाद्य पदार्थ तैयार अथवा बेचान किया जाता है

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है