ग्रामपंचायत के खाते से 6579712 रुपये निकाल कर धोखाधड़ी व गबन करने के आरोप में तत्कालीन सरपंच और ग्राम विकास अधिकारी गिरफ्तार

ग्रामपंचायत के खाते से 6579712 रुपये निकाल कर धोखाधड़ी व गबन करने के आरोप में  तत्कालीन सरपंच और ग्राम विकास अधिकारी गिरफ्तार

भरतपुर जिले के ड़ीग सर्किल में पुलिस ने ग्राम पंचायत बद्रीपुर के पृर्व सरपंच बारिस पुत्र इदरीश मेव और ग्राम विकास अधिकारी जगत सिंह को ग्राम पंचायत के खाते से  संयुक्त रुप से 65 लाख 79 हजार 712 रुपये की राशि निकाल कर धोखाधड़ी कर गबन करने के आरोप में गिरफ्तार किया है।
अनुसंधान अधिकारी एस आई फत्ते लाल ने बताया है कि पंचायत  समिति ड़ीग की तत्कालीन विकास अधिकारी दीपाली शर्मा के निर्देश पर पंचायत प्रसार अधिकारी  राजेंद्र शर्मा ने पुलिस में गत वर्ष 18 मॉर्च को दर्ज प्राथमिकी में पंचायत समिति ड़ीग की ग्राम पंचायत बद्रीपुर के तत्कालीन सरपंच वारिस पुत्र इदरीस मेव और ग्राम विकास अधिकारी जगत सिंह के खिलाफ ग्राम पंचायत बद्रीपुर के बैंक खाते से संयुक्त रूप से 65 लाख 79 हजार 712 रुपये निकाल कर उनका इंद्राज ग्राम पंचायत की कैश बुक में ना कर धोखाधड़ी कर गबन कर लेने का आरोप लगाया था। एस आई लाल के अनुसार प्राथमिकी में बताया गया था की  नए सरपंच के चुनाव से करीब 3 महीने पहले आरोपी सरपंच और ग्राम विकास अधिकारी ने ग्राम पंचायत के खाते से निकाली गई  उक्त राशि का  अभी तक कोई हिसाब नहीं दिया है और ना ही रिकॉर्ड  प्रस्तुत किया है जबकि विकास अधिकारी द्वारा इस संबंध में उन दोनों को इस दौरान कई बार नोटिस दिए गए। 
साथ ही  ग्राम विकास अधिकारी जगत सिंह तो तभी से ड्यूटी पर गैरहाजिर चल रहा था जबकि इसको लेकर विकास अधिकारी द्वारा  उसकी गैर हाजरी की सूचना अखबारों में प्रकाशित कर उसे हाजिर होने के लिए पाबंद किया गया था। अनुसंधान  अधिकारी एस आई लाल ने बताया है कि सरपंच वारिस द्धारा अवैधानिक रूप से  उक्त राशि में से ग्राम पंचायत के खाते से 10 लाख रुपये तथा  ग्राम विकास अधिकारी जगत सिंह द्धारा 15 लाख अपने खातों में ट्रांसफर किये गए है।
उन्होंने बताया की दोनों आरोपी 18 मार्च 2000 से ही फरार चल रहे थे। जिन्हें मंगलवार की देर शाम मुखबिर की इत्तला पर पर डीग कस्बे के बस स्टेंड से एस आई लाल ने मय जाब्ता  के साथ गिरफ्तार कर बुधवार को न्यायालय में पेश कर दोनों को 29 मई तक के लिए पुलिस रिमांड पर ले लिया है। अब पुलिस गिरफ्तार सरपंच   और ग्राम विकास अधिकारी से गवन की गई 65 लाख 79 हजार 712 रुपये सरकारी राशि की बरामदगी के प्रयास में जुटी हुई है।

  • रिपोर्ट- पदम जैन