जलग्रहण विकास परियोजना हमीरपुर, बानसूर का किया गया उदघाटन

जलग्रहण विकास परियोजना हमीरपुर, बानसूर का किया गया उदघाटन

बानसूर (अलवर, राजस्थान) जलग्रहण परियोजना हमीरपुर, बानसूर का उदघाटन किया गया उदघाटन सरस्वती वंदना एवं दीप प्रज्वलन कर मुख्य अतिथी मुख्य अतिथी श्रीमान हंसराज वर्मा (IAS) ACS Govt. of Tamil Nadu, श्रीमान बैज्जू एन कुरप मुख्य महाप्रबंधक नाबार्ड जयपुर, श्रीमान मातादीन वर्मा रिटा. कर्नल, श्रीमती सुधा देवी समाज सेविका, श्रीमती डा. अर्तिका शुक्ला (IAS) CO  जिला परिषद अलवर द्वारा किया गया। 
कार्यक्रम के प्रारम्भ में डी.डी.एम. नाबार्ड श्रीमान प्रदीप चौधरी द्वारा सभी अतिथियों का कार्यक्रम मे आने का आभार व्यक्त किया एवं इस जल ग्रहण परियोजना जो कि 1727 हैक्टर भूमि पर जो-जो कार्य होगें पर विस्तार से बताया जैसे- परम्परागत वर्षा जल प्रबंधन, मेडबंदी, मिट्टी के बांध, जोहड खुदाई, एनीकट निर्माण, कनटूर ट्रेंच, पौधारोपण, अन्नत कृषि प्रबंधन, बंजर व पडत भुमी का विकास, महिला सषक्तिकरण आदी।

 स्पैक्ट्रा के निदेशक ने बताया की क्षेत्र में इस परियोजना से जो सुखे हुये जल स्त्रोत है वो पुर्न जीवित होगें और आस-पास के क्षेत्रों में जोहड़, तालाब, कुओं में पानी की आवक होगी, फसलों के साथ-साथ फलो के वृक्ष एवं सब्जीयों की पैदावार बढेगी व वृक्षारोपण पर कार्य किया जायेगा। 1727 हैक्टर में आने वाले तीनों गांवो में जोहड़ो पर कार्य, एनीकट पर कार्य, कनटूर ट्रेंच और उन्नत कृषि एवं पशु प्रबंधन पर कार्य किया जायेगा।
नाबार्ड के मुख्य महाप्रबंधक श्रीमान बैज्जू एन कुरप द्वारा बताया गया की इस परियोजना का लाभ अधिक से अधिक परिवारो को मिले तथा ग्राम स्तर पर ग्राम जल ग्रहण विकास समिति बने जो इस परियोजना कि पारदर्षिता को मध्यनजर रखते हुये परियोजना को क्रियान्वयन करे तथा इस समिति की मुख्य जिम्मेदारी परियोजना पुर्ण होने के पश्चात जो भी पानी रोकने कि संरचनाये बनी है उनका रख-रखाव करना एवं उन्हे बचाये रखना एवं समय-समय पर उनकी मरम्मत करवाते रहना। साथी मुख्य महाप्रबंधक महोदय द्वारा कहा गया की बच्चों एवं युवाओं को षिक्षा के साथ-साथ वर्षा जल प्रबंधन एवं पानी बचाओं कि शिक्षा एवं जागरूकता दी जाये ताकी भविष्य मे इस सम्पदा को बचाकर रख सके। यह परियोजना नाबार्ड, जयपुर के वित्तिय सहयोग से स्पैक्ट्रा संस्था अलवर द्वारा क्रियान्वयन की जा रही है।

उदघाटन कार्यक्रम के दौरान जंगल, जमीन बचाने पर अतिथियों ने अपने विचार साझा किए व स्कूल के बच्चों द्वारा चार्ट, मॉडल, पेम्पलेट, भाषण, नाटक एवं कविता वाचन के माध्यम से जल, जंगल, जमीन का महत्व बताते हुये इनके संरक्षण के बारे में बताया।
 इस मोके पर अतिथियों से वृक्षारोपण भी करवाया गया एवं ग्रामवासीयों को पेड़ों की सुरक्षा हेतु जिम्मेदारी दी गयी।
यह परियोजना स्पैक्ट्रा संस्था द्वारा नाबार्ड के सहयोग से अगले 5 वर्ष जल, जंगल और जमीन का प्रबंधन, बागवानी, जल संरक्षण, एवं गरीब परिवारों का आजीविका संवर्धन कर आर्थिक व सामाजिक विकास करने में मदद करेगी।
कार्यक्रम मे श्रीमान ए.के. सिन्हा डी.जी.एम. नाबार्ड जयपुर, श्री राहुल सैनी (RAS) SDM  बानसूर, श्री अमीत यादव (LDM) PNB  अलवर, श्री वी.के. शर्मा (RM) BRKGB अलवर, लाली देवी पुर्व प्रधान बानसूर, सीता सैनी सरपंच हमीरपूर, टॅब् के सदस्य महेन्द्र सिंह मीणा, धर्मेन्द्र सैनी, बाबुलाल सैनी, चरण सिंह पंच आदी उपस्थित रहे।

इस कार्यक्रम में संस्था द्वारा बनाये गये महिला स्वयं सहायता समूहों की 85 सदस्यों और 700 ग्रामीणों ने भाग लिया एवं कार्यक्रम में विषेष सहयोग राजेन्द्र कुमार, पप्पु कसाणा, हनुमान, शेरसिंह, अरूण कुमार मामोडिया एवं मंच संचालन सपना देवी एवं संजय गुप्ता वरिष्ठ अध्यापिका/अध्यापक हमीरपूर, व स्पैक्ट्रा संस्था से कार्यकारी निदेषक श्री प्रदीप पुण्ढीर, निदेशक श्री रतन सिंह चौधरी, मोनिषा घोष, सपना चौधरी, कुवर सिंह, दिनेष मैहरा, चेतन, आशिष आदी का रहा।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है