महिला थानाध्यक्ष जोरशोर से चला रही एंटी रोमियो अभियान, अब दिख रही महिला पुलिस की सख्ती

बदायूँ महिला थानाध्यक्ष रेनू सिंह की एंटी रोमियो टीम ने छात्राओं को दिलाया सुरक्षा का भरोसा

महिला थानाध्यक्ष जोरशोर से चला रही एंटी रोमियो अभियान, अब दिख रही महिला पुलिस की सख्ती

बदायूँ (उत्तरप्रदेश/ शशि जायसवाल/ अभिषेक वर्मा) प्रदेश में महिलाओं के साथ अक्सर होने वाली छेड़खानी और हिंसक वारदातों पर नकेल लगाने के लिए पूरे प्रदेश में समय समय पर अभियान चलाये जाते हैं। इन अभियानों के अलावा महिलाओं को आत्मरक्षा के हुनर और आत्मविश्वाश जगाने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में
उत्तर प्रदेश के बदायूँ जिले के तेजतर्रार पुलिस अधिकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बदायूँ डॉ० ओ. पी. सिंह के निर्देशन में बदायूँ महिला थानाध्यक्ष रेनू सिंह प्रतिदिन महिला पुलिस बल के साथ स्वयं घूम कर एंटी रोमियो अभियान चलाती दिख रही है। उनके द्वारा छात्राओं को सुरक्षा का भरोसा दिलाया जा रहा है। महिला थानाध्यक्ष रेनू सिंह ने बदायूँ कॉलेज स्कूल की प्रधानाचार्य और अध्यापिकाओं से भी बातचीत की।
अभियान में महिला कॉलेज, देवी मंदिर स्थल,  पार्क, रोडवेज आदि  के आसपास चलाया गया। हमारे संवाददाता अभिषेक वर्मा द्वारा वर्जन लेने पर  बदायूँ महिला थानाध्यक्ष रेनू सिंह ने बताया कि बदायूँ एसएसपी डॉ० ओ. पी. सिंह महोदय के निर्देशन में एंटी रोमियो अभियान जोरशोर से हर रोज चलाया जा रहा है। इस दौरान स्कूल कॉलेज , धर्मस्थल आदि के आस पास घूम रहे लोगों से रोक कर पूछताछ कर नाम पता नोट कर हिदायत देते हुए छोड़ा जाता है साथ ही कहा कि महिलाओं एवं छात्राओं से छेड़खानी और हिसक वारदातों पर नकेल लगाने के लिए तथा उन्हें सुरक्षा प्रदान करने के लिए लगातार जोरशोर से एंटी रोमियो अभियान चलाया जा रहा है। बदायूँ शहर में खास कर स्कूल कॉलेज के पास महिला पुलिस अधिकारी व कर्मियों की तैनाती की जा रही है। शहर के विभिन्न चौक चौराहों एवं पार्कों में महिलाओं की सुरक्षा के लिए कोविड-19 की गाइडलाइन के पालन करते हुए एंटी रोमियो अभियान चल रहा। हमारा लक्ष्य है कि महिला भय मुक्त रहे। साथ ही शहर के भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र सार्वजनिक स्थल पर आने जाने वाले रास्ते एवं मुख्य चौक चौराहों, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन आदि जगहों पर विशेष चौकसी बरती जा रही है। एंटी रोमियो अभियान के तहत पकड़े गए लोगों का नाम व पता नोट कर कड़ी हिदायत दी जाती है। मौके पर ज्यादा तर मैं स्वयं मौजूद रहती हूं।