कोरोना संक्रमित मरीजों की मदद के लिए ओटो को बनाया मिनी एंबुलेंस, पुलिस ने युवक के खिलाफ किया केस दर्ज

कोरोना संक्रमित मरीजों की मदद के लिए ओटो को बनाया मिनी एंबुलेंस, पुलिस ने युवक के खिलाफ किया केस दर्ज

भोपाल (मध्य प्रदेश/ शशि जायसवाल) कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर काफी लोग अपने प्राण गंवा चुके हैं ऐसे में काफी समाजसेवी लोग संक्रमित मरीजों की मदद के लिए सामने आ रहे हैं ताकि किसी मरीज की जान बचाई जा सके वह किसी ना किसी तरीके से संक्रमित हो मरीजों की मदद करने से पीछे नहीं हटते हैं ऐसा ही मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से सामने आया जहां पर एक युवक ने कोरोना संक्रमित मरीजों की मदद के लिए अपने ऑटो को मिनी एंबुलेंस में बदल कर लोगों की मदद करना शुरू कर दिया जहां कोरोना संक्रमण से चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है और दूसरी तरफ लोगों की मदद करने वाले युवक जावेद खान के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया
प्राप्त जानकारी के अनुसार जावेद ने अपनी पत्नी के गहने बेचकर ऑटो को मिनी एंबुलेंस में बदल दिया और उस मिनी एंबुलेंस की मदद से मरीजों को अस्पताल और अस्पताल से घर पहुंचा रहे थे लेकिन शनिवार को भोपाल के छोला पुलिस थाने के पुलिसकर्मियों ने जावेद को रोक लिया गाड़ी रोके जाने के बाद जावेद ने पुलिस से अनुरोध कर बताया कि वह इमरजेंसी ड्यूटी पर है फिर भी किसी ने उसकी कोई बात ना सुनी! पुलिसकर्मियों के द्वारा रोके जाने पर जावेद ने उन्हें बताया कि उसने अपने ऑटो को मिनी एंबुलेंस में बदल लिया है जिससे वह कोरोना संक्रमित मरीजों की मदद कर रहा है जिसके लिए उसने ऑटो में ऑक्सीजन सिलेंडर भी उपलब्ध करा रखा है जिस पर पुलिस कर्मियों ने उसे डांटना शुरू कर दिया पुलिसकर्मियों के इस बर्ताव को लेकर जावेद ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया जिससे पुलिसकर्मी आग बबूला हो गए और युवक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया

जैसे-जैसे सोशल मीडिया पर पुलिस की आलोचना होना प्रारंभ हुई तो भोपाल पुलिस ने केस को वापस लेने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी