युवक ने धारदार हथियार से युवती को उतारा मौत के घाट, फिर शव से...

युवक ने धारदार हथियार से युवती को उतारा मौत के घाट, फिर शव से...

जालोर (राजस्थान/ बरक़त खान) आहोर थाना क्षेत्र से थांवला गांव में मनरेगा कार्यस्थल  पर रविवार सवेरे एक युवक ने धारदार हथियार से यहा कार्य कर रही युवती की बेरहमी से हत्या कर दी।  युवती को मौत के घाट उतारने के बाद आरोपी युवक उसके शव से लिपट गया। बाद में मौके पर पहुंची आहोर पुलिस ने  युवक को शव से अलग कर हिरासत में लिया।                  
 पुलिस के अनुसार जोजावल्ली नाड़ी पर चल रहे मनरेगा कार्य स्थल पर सवेरे करीब 10:30 बजे मनरेगा कार्य के दौरान गांव के गणेशाराम पुत्र सुनीलाल मीणा ने मौके पर पहुंचकर यह कार्य कर रही गांव की शांति देवी 32 वर्ष शांतिलाल चौधरी के गले व शरीर की अन्य भाग पर धारदार हथियार कूट से वार कर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी।                
आरोपी युवक हत्या के बाद खून से लथपथ पढ़े मृतका के शव से लिपटा रहा। पुलिस ने मौके पर पहुंचने के बाद आरोपी को शव से अलग किया तथा उसे हिरासत में लिया गया। पुलिस के अनुसार हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। जानकारी के अनुसार मृतका का पति देसावर में कार्य करता है तथा वह चार - पांच पहले ही देसावर गया है। मृतका तीन दिन पहले अपने पीहर से थांवला गांव आई थी। मृतका के दो पुत्र हैं

 

मौत होने तक लगातार करता रहा वार

थांवला गांव की 32 वर्षीय महिला शांतिदेवी पत्नी शांतिलाल चौधरी मनरेगा मजदूर थी। महिला का पति शांतिलाल महाराष्ट्र में काम करता है। शांतिदेवी के दो बेटे हैं। यहां अपने ससुराल के लोगों के साथ रहती थी। शांतिदेवी रविवार को जोजावर नाडी में मनेरगा के काम कर गई थी। इस दौरान गांव का ही रहने वाला 21 वर्षीय गणेश पुत्र थानाराम मीणा आया। उसने महिला से कहा कि वह उससे प्यार करता है। महिला ने इनकार किया तो गुस्से में आकर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। पागलपन में आरोपी ने कुल्हाड़ी को घुमाकर कहा कि आज तुझे जान से मारकर ही रहूंगा। आरोपी चिल्लाता रहा और महिला की गर्दन टूटने पर भी कुल्हाड़ी से वार करता रहा। जब तक महिला की मौत नहीं हो गई, उसने हमला करना नहीं रोका।

  • शव से लिपटा रहा आरोपी

सनकी आशिक के धारदार हथियार से वार सहकर महिला की मौके पर ही मौत हो गई। मनरेगा के अन्य श्रमिकों ने बचाने का प्रयास भी किया। मगर आरोपी ने उन्हें भी जान से मारने की धमकी दी। डर के मारे सभी लोग पीछे हट गए। महिला की मौत के बाद भी आरोपी का तमाशा खत्म नहीं हुआ। हत्या करने के बाद महिला के शव से लिपट गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। तब भी आरोपी शव को छोड़ने को तैयार नहीं था। पुलिस ने जबरन उसे पकड़कर हिरासत में लिया और शव को अस्पताल पहुंचाया।

  • एक तरफा प्यार बना मौत का कारण

पुलिस ने बताया कि मामले में आरोपी थांवला गांव के रहने वाले गणेश पुत्र थानाराम मीणा को पकड़ा है। आरोपी महिला से एक तरफा प्यार करता था। कई महीनों से पीछा कर परेशान कर रहा था। महिला ने इस बारे में अपने पति शांतिलाल चौधरी को भी बताया था। पति ने आरोपी गणेश मीणा को समझाया भी था, लेकिन वह नहीं माना और अंजाम मौत तक पहुंच गया। मामले में महिला के जेठ गोमाराम पुत्र नाथूराम चौधरी ने हत्या का मामला दर्ज करवाया है। महाराष्ट्र से पति के आने पर पोस्टमार्टम करवाया जाएगा।