भारतीय संस्कृति को दर्शाते मॉडलिंग शो में दिव्यानी बनी निर्णायक

भारतीय संस्कृति को दर्शाते मॉडलिंग शो में दिव्यानी बनी निर्णायक

मुम्बई (महाराष्ट्र/मुकेश मेनारिया) राजस्थान की यंगेस्ट कास्टिंग डायरेक्टर डॉ. दिव्यानी कटारा ने हाल ही मुम्बई में आयोजित हुए इंडियन फैशन कल्चर शो में निर्णायक की भूमिका निभाते हुए मेवाड़ का नाम रोशन किया है। 
दिव्यानी ने बताया कि पहली बार ऐसा शो हुआ है, जिसमे देश के 28 राज्यो के मॉडल्स ने अपने राज्य के परिधानों को पहनकर वाक किया ओर अपनी संस्कृति को प्रस्तुत किया। दिव्यानी के साथ ही निर्णायक पैनल में मिसेज इंडिया रह चुकी रूपल मोहताना, गुजरात से मिस इंडिया का खिताब जीत चुकी सोनल ओर कुणाल कौशल सहित फैशन ओर मॉडलिंग इंडस्ट्रीज के कई दिग्गज मौजूद रहे। इसके साथ ही मुम्बई में ही आयोजित दादा साहब फाल्के अवार्ड में भी डॉ. दिव्यानी कटारा ने विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत की। उन्होंने बताया कि अवार्ड शो का शुभारंभ मुकेश भट्ट ने दीप प्रज्ज्वलन कर किया। इसके साथ ही बड़े और छोटे पर्दे के कई दिग्गज कलाकारों ने अवार्ड शो में शिरकत की। खास तौर से पूनम ढिल्लो, चर्चित सीरियल अनुपमा ओर भाभी जी घर पर है कि पूरी टीम भी इस अवार्ड शो में मौजुद रहे। 
दिव्यानी ने बताया कि दादा साहब फाल्के अवार्ड के लिए 2 बार उनको चयनित किया गया है, लेकिन दिव्यानी का कहना है कि जब तक वो अपनी मेहनत और काबलियत के दम पर फ़िल्म इंडस्ट्री में एक मजबूत स्थान नही बना लेती तब तक वो इस अवार्ड को ग्रहण नही करेगी।
आपको बता दे कि पिछले 11 साल से मॉडलिंग क्षेत्र में अपनी मेहनत के बलबूते राष्ट्रीय स्तर के पेजेंट में निर्णायक ओर को शोज में अवार्ड प्राप्त कर चुकी दिव्यानी मूलतः डूंगरपुर वागड़ की रहने वाली है और वागड़ क्षेत्र की पहली मॉडल होने के साथ ही राजस्थान की यंगेस्ट कास्टिंग डायरेक्टर है जो राष्ट्रीय स्तर के शो में अपनी मॉडलिंग के जलवे बिखेरे चुकी है।