गैस के दाम बढ़ने से आम घर का बजट बिगड़ा

गैस के दाम बढ़ने से आम घर का बजट बिगड़ा

दिल्ली:- बार बार गैस के दाम बढ़ने से आम घर का बजट बिगड़ गया है। आम जनता पर महंगाई की मार लगातार पड़ रही है। पेट्रोल-डीजल के बाद एलपीजी सिलिंडर की कीमतों में  फिर सोमवार से बढ़ोतरी हुई है। इस बार 25 रुपये बढ़े हैं। पिछले 1 माह में सिलिंडर के दाम 125 रुपये बढ़ गए हैं।  एलपीजी सिलिंडर की कीमतों में इजाफा होने से लोगों में खासा आक्रोश भी देखा जा रहा है। रसोई गैस के दाम बढ़ने से महिलाएं नाराज हैं। महिलाओं का कहना है कि गैस के लगातार दाम बढ़ने से घरेलू बजट गड़बड़ा गया है। 
प्रेम देवी का कहना की रसोई गैस की कीमतों में फिर वृद्धि हुई है।  घर का खर्च कैसे चलेगा। कोरोना काल में पहले ही महंगाई ने कमर तोड़कर रख दी है। घरेलू गैस सिलेंडर पेट्रोल डीजल बिजली की दरों में बढ़ोतरी होने से सारा घर का बजट गड़बड़ा गया है।
 गृहिणी डिंपल शर्मा ने कहा कि सरकार ने हर महीने रसोई गैस की कीमत बढ़ाकर गरीब परिवारों की कमर तोड़ दी है। फिर 25 रुपये बढ़ा दिए हैं। गृहिणी लता ने कहा कि रसोई गैस सिलिंडर की कीमत में लगातार हो रही बढ़ोतरी से सभी परिवार दुखी और परेशान हैं। सरकार को इस पर विचार करना चाहिए। कनेक्शनधारकों पर इसका बोझ पड़ेगा।
कैसी सरकार परेशानी कम करने के बजाय बढ़ा रही है आमदनी सीमित, खर्च बढ़ रहे ग्रहणी लक्ष्मी देवी ने कहा कि पेट्रोल और सिलिंडर बिजली हर घर की जरूरत है, इन पर तेजी से दाम बढ़ा दिए हैं, आमदनी सीमित है, घर का खर्च चलाने में परेशानी हो रही है।
सुधा देवी अच्छे दिन के नाम पर जनता को छला 
सरकार ने अच्छे दिन का सपना दिखाकर जनता के साथ धोखा किया है। गरीब और गरीब होता जा रहा है। सरकार ने सत्ता में आने से पहले गरीब को ऊपर उठाने की बात की थी लेकिन सरकार ने उन्हें नीचे गिराया है। सरकार की हर नीति का सीधा असर मध्यम वर्ग के लोगों पर पड़ रहा है, जो टैक्स भी अदा करते हैं।

  • रिपोर्ट- गिर्राज सौलंकी