अलवर में मूक-बधिर नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप व दरिंदगी करने वाले हैवानों को गिरफ्तार कर फाँसी देने की माँग

आदर्श समाज समिति इंडिया के तत्वाधान में मुख्यमंत्री व डीजीपी के नाम दिया ज्ञापन

अलवर में मूक-बधिर नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप व दरिंदगी करने वाले हैवानों को गिरफ्तार कर फाँसी देने की माँग

सूरजगढ़ (झुंझुनूं, राजस्थान/ सुमेरसिंह राव) आदर्श समाज समिति इंडिया के तत्वाधान में मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार व पुलिस महानिदेशक के नाम उपखंड अधिकारी सूरजगढ़ को ज्ञापन देकर अलवर में मूक-बधिर नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप व दरिंदगी करने वाले दरिंदों को तुरंत गिरफ्तार कर फाँसी देने की माँग उठाई है। आदर्श समाज समिति इंडिया के अध्यक्ष धर्मपाल गाँधी व एडवोकेट हवासिंह चौहान ने कहा- अलवर जिले में 11 जनवरी मंगलवार को दिल दहला देने वाला निर्भया काँड जैसी हैवानियत का मामला सामने आया है। गरीब परिवार की नाबालिग मूकबधिर बच्ची का अपहरण कर दरिंदों ने हैवानियत की सभी हदें पार करते हुए गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। गैंगरेप के बाद हैवानों ने क्रूरता व वहशीपन की सभी हदें पार की और पीड़िता को रात होने पर मरणासन्न स्थिति में ओवरब्रिज पर फेंक दिया। मूकबधिर नाबालिग बच्ची से गैंगरेप की यह घटना निर्भया काँड से भी बड़ी है। क्योंकि यह मूकबधिर बच्ची चिल्लाकर मदद भी नहीं मांग सकती थी और बोल कर अपना दर्द भी बयां नहीं कर सकती है। बच्ची अभी अस्पताल में मौत और जिंदगी की लड़ाई लड़ रही है। हम सरकार से पुरजोर मांग करते हैं कि इस घटना को गंभीरता से लेते दोषियों को तुरंत गिरफ्तार कर फाँसी की प्रक्रिया को पूरा किया जाना चाहिए। जब तक ऐसे दरिंदों को फाँसी नहीं दी जायेगी तब तक समाज में बेटियां महफूज नहीं रह पायेंगी। सामाजिक कार्यकर्ता ओमप्रकाश सेवदा ने कहा- राजस्थान में महिला अत्याचार और बालिकाओं के साथ क्रूरता की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। अलवर जिले में एक बार फिर हैवानियत का घिनौना चेहरा सामने आया है। रेप और गैंगरेप के मामले में अलवर जिला पहले ही बदनाम हो चुका है। मूक-बधिर नाबालिग बच्ची के साथ हैवानियत करने वाले दरिंदों के खिलाफ सरकार को सख्त एक्शन लेना चाहिये। इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने वाले दरिंदों के लिए समाज में कोई जगह नहीं है। ऐसे हैवानों को फाँसी पर लटकाना चाहिये।
ज्ञापन देने वालों में आदर्श समाज समिति इंडिया के अध्यक्ष धर्मपाल गाँधी, अभिभाषक संघ के सचिव एडवोकेट सुरेश कुमार दानोदिया, ओमप्रकाश सेवदा, हवासिंह चौहान, एडवोकेट कृष्णपाल सिंह, अजय जडेजा, राजेश योगी, राकेश वर्मा, सुनील कुमार शर्मा, अमित अहलावत, अजय सांगवान, मुकेश लुगरिया, पवन कुमार, बलवान आदि अन्य लोग मौजूद रहे।