पूर्व पार्षद का आंगनबाड़ी में चयन का मामला: जॉइनिंग से पहले लगा दी उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी

वार्ड 1 में रहने वाली पूर्व पार्षद का वार्ड 2 में हुआ चयन,आदेश से एक दिन पूर्व उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी लगानी की शूरु..... 14 अक्टूबर को चयन आदेश हुए थे जारी,13 अक्टूबर से उपस्थिति रजिस्टर में हाजरी लगानी कर दी शुरू....... बिना जॉइनिंग से पहले लगा दी उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी,विभाग की पर्यवेक्षक ने लिखा उपस्थिति रजिस्टर में "भूलवश में कार्यकर्त्ता से लाई हाजरी",....

पूर्व पार्षद का आंगनबाड़ी में चयन का मामला: जॉइनिंग से पहले लगा दी उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी

श्रीकरणपुर में आंगनबाड़ी में फर्जी तरीके से चयन मामले में पूर्व पार्षद द्वारा आदेश से एक दिन पूर्व उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी लगाने का मामला सामने आया है, बता दे की 14 अक्टूबर को चयन आदेश जारी हुए थे लेकिन आंगनबाड़ी चयनित पूर्व पार्षद ने 13 अक्टूबर से बिना जॉइनिंग के उपस्थिति रजिस्टर में हाजरी लगानी  शुरू कर दी,वही इस मामले में संलिप्त अधिकारी अपनी संलिप्तता को छुपाने में जुटे हुए हैं ।

श्रीगंगानगर (राजस्थान/ फतेह सागर)- श्रीकरणपुर की आंगनबाड़ी में अंधेरी नगरी चौपट राजा इस मुहावरे पर पूर्व पार्षद का आंगनबाड़ी में चयन होने के मामले पर सटीक बैठ रहा है,अधिकारियों की मनमानी के चलते इस मामले में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है,बता दे की वार्ड संख्या 1 में रहने वाली पूर्व पार्षद चरणजीत कौर का  चयन वार्ड संख्या 2 की आंगनबाड़ी   में हुआ है, दरअसल पूर्व पार्षद चरणजीत कौर वार्ड संख्या 2 की स्थाई निवासी है ही नही,परंतु नियमानुसार चयनकर्ता उसी वार्ड की स्थाई निवासी होनी चाहिए, हम आपको बताते हैं चयन आदेश से एक दिन पहले पूर्व पार्षद ने उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी लगानी शुरू कर दी, बल्कि 14 अक्टूबर 2022 को चयन आदेश जारी हुए थे,और पूर्व पार्षद ने जॉइनिंग से पहले ही उपस्थिति रजिस्टर में 13 अक्टूबर से हाजरी लगानी शुरू कर दी,इतना ही नही पर्यवेक्षक रमनदीप कौर ने बकायदा  उपस्थिति रजिस्टर की जांच भी की थी, पर्यवेक्षक ने जैसा मामला चलता रहा वैसे चलने दिया, लेकिन जब ये मामला गर्माया तो विभाग की पर्यवेक्षक रमनदीप कौर ने उपस्थिति रजिस्टर में"भूलवश गलती से  कार्यकर्त्ता ने हाजरी", लगना लिख दिया, बड़ा सवाल आखिर उपस्थिति रजिस्टर में लबे समय तक भूलवश गलती से कैसे लगती रही हाजरी,विभाग की पर्यवेक्षक रमनदीप कौर ने उपस्थिति रजिस्टर की जांच को तो क्यो नहीं दिया नोटिस क्यो लगाने दी जॉइनिंग से पहले ही उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी,वही इस मामले में संलिप्त अधिकारी अपनी संलिप्तता को छुपाने में जुटे हुए हैं ।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है