सांसद के खिलाफ बहरोड़ विधायक के द्वारा अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में भाजपाइयों ने राज्यपाल के नाम सौपा ज्ञापन

सांसद के खिलाफ बहरोड़ विधायक के द्वारा अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में भाजपाइयों ने राज्यपाल के नाम सौपा ज्ञापन

अलवर के लक्ष्मणगढ़ मे बहरोड़ विधायक बलजीत यादव के द्वारा एक प्रेस कान्फ्रेंस में सासंद बालकनाथ योगी के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी करने के विरोध में शुक्रवार को लक्ष्मणगढ़ में भाजपाइयों ने पूर्व जिला मंत्री प्रदीप जैन के नेतृत्व में राज्यपाल के नाम एसडीएम सुभाष यादव को ज्ञापन सौपा। 
भाजपा नेता पूर्व जिला मंत्री प्रदीप जैन व तूफान बना ने बताया कि गत दिनों बहरोड़ विधायक बलजीत यादव के द्वारा एक प्रेस कांफ्रेंस में राष्ट्रीय संत व अलवर सांसद बालकनाथ योगी के खिलाफ संत होने को लेकर अमर्यादित टिप्पणी की थी। विधायक के द्वारा सांसद को संत होने पर ही सवाल उठाये। वही अमर्यादित टिप्पणी से नाराज भाजपाइयों ने एसडीएम कार्यालय पहुचे ओर पूर्व जिला मंत्री प्रदीप जैन के नेतृत्व में एसडीएम ज्ञापन सौपा। बाद में भाजपाईयो ने विरोध प्रदर्शन कर नाराजगी जताई।
 ज्ञापन में बताया कि संत समाज पर दोषारोपण करने वाला और भगवा वस्त्र पर कीचड़ उछालने वाला हिंदू समाज और सनातन संस्कृति का संरक्षक तो नहीं हो सकता। खुद विधायक का विधानसभा क्षेत्र हत्या, बलात्कार, लूट डकैती, अवैध वसूली का गढ़ बनता जा रहा है। अलवर सांसद की लोकप्रियता से घबराकर अपना विधायक बलजीत यादव  संत समाज पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर संपूर्ण राष्ट्र के संत महात्माओं को अपमानित करने का प्रयास करने का आरोप लगाया। 
इस दौरान प्रदीप कुमार जैन, राजू चावला, हेमंत खारवाल, कुलदीप घीया, सुभाष रोणपुर, तुफान बना, मनिष झालानी, कैलाश सैन, सतीश अरोड़ा, सोरभ साहू, विष्णु प्रजापत, बाबू लाल सैनी, रुप सिंह चौधरी, रघुवीर चौधरी, अबीर मोदी, दिनेश शर्मा घडावली, रोहिताश शर्मा, कैलाश शर्मा, तिलकराज अरोडा, धर्मेंद्र मीणा, अकबर खां मौजूद थे।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है