भाजपा ने राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर बोला हमला, वक्ताओं ने कांग्रेस को जमकर कोसा

प्रदेश सरकार ने जनता के साथ किया छलावा-चतुर्वेदी

भाजपा ने राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर बोला हमला, वक्ताओं ने कांग्रेस को जमकर कोसा

राम झरोखा मैदान पर महंगाई के खिलाफ भाजपा के जिला स्तरीय जन आक्रोश आंदोलन में जिले भर से पहुंचे लोग,  आक्रोश रैली में पुरुषों के साथ महिलाएं भी जुटी, नारेबाजी के साथ सौंपा मांग पत्र 

सिरोही (राजस्थान/ रमेश सुथार ) प्रदेश कांग्रेस सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी जिला सिरोही ने प्रदेश व्यापी आह्वान पर सोमवार को शहर में जन आक्रोश रैली निकालकर कलेक्ट्री के बाहर प्रदर्शन कर भाजपा नेताओं ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को जमकर कोसा।
जन आक्रोश रैली में मुख्य वक्ता भाजपा पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एव पूर्व मंत्री समाज कल्याण विभाग राजस्थान सरकार अरूण चतुर्वेदी ने सरकार की जन विरोधी नीतियों के खिलाफ हल्ला बोलते हुए सरकार को प्रदेश के विकास को नजरअंदाज कर केवल अपने झगड़ों को निपटाने एवं जिन वादों को कर सत्ता में काबिज हुए उनको भुला देने के आरोप जड़े। उन्होंने कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने भ्रष्टाचार, रिश्वतखोरी,कमीशन खोरी, तानाशाही साम्राज्य स्थापित किया है। 3 सालों में राजस्थान कांग्रेस की कुनीतियों के कारण महिला अपराध में प्रथम स्थान पर आ चुका है। एससी एसटी पर अत्याचारों में तीसरे नंबर पर आ चुका है, कानून व्यवस्था राजस्थान में पूरी तरह चौपट हो चुकी है, संविदा कर्मी कई महीनों से आंदोलनरत है राजस्थान सरकार सुन नही रही। भाजपा सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद करके सरकार खुश हो रही है जिससे जनता में भयंकर आक्रोश है। 
कांग्रेस सरकार सत्ता में आने के बाद प्रदेश की जनता से किए वादों को नजरअंदाज किया है। प्रदेश की सरकार कर्ज माफी को भूल गई जिसका जवाब प्रदेश की जनता आने वाले 2023 के चुनावों में दे देगी।चतुर्वेदी ने कहा कि संपूर्ण भारत में सबसे महंगी बिजली राजस्थान में है।आज राजस्थान में आपराधिक गतिविधियों के साथ ही दलितों पर अत्याचार, सरकारी भर्तियों में भ्रष्टाचार प्रदेश अग्रणी भूमिका में है। और कहा कि राज्य सरकार सत्ता में आने के बाद प्रदेश का विकास रुक गया है।पिछली भाजपा सरकार ने स्टेट हाईवे टोल मुक्त किए थे लेकिन जैसे ही कांग्रेस सरकार सत्ता में आई तो टोल शुरू करके प्रदेश की जनता के साथ छलावा किया।उन्होंने सरकार को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार के तीन वर्ष पूर्ण होने पर बड़े बड़े पोस्टर,कार्यक्रम व आयोजनों के माध्यमों से बेमिसाल बता रहे है और विकास की बाते कर रहे है लेकिन हकीकत में इन तीन सालों में विकास नही प्रदेश का विनाश हुआ है। उन्होंने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि जो भोली भाली जनता से गत चुनावों में जो वायदे किये थे उन वायदों का क्या हुआ। पेट्रोल व बिजली राजस्थान में ही महंगी क्यों है। चुनाव के समय बिजली नही बढाने व किसानों के कर्ज माफी का क्या हुआ । कहा है युवाओ को नौकरी,कितने  युवा बेरोजगार के खाते में तीन हजार का भत्ता डाला है, कितनी महिलाओ को इंसाफ मिला है एैसे कई सवाल है जो आज जनता पूछ रही है। तो उधर पूर्व प्रदेशाध्यक्ष ने निर्दलीय विधायक लोढा पर तंज कसते हुए कहा कि मंत्री बनने की चाह में दो से तीन बार सूट भी सिलवा लिये थे, जिसके पैसे भी अभी दर्जी के बाकी है।
चतुर्वेदी ने  कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसा, बोले राहुल जी फिर जयपुर आ गए छा गए और नया इतिहास बना गए।मा व मातृत्व पर प्रश्न खड़ा कर चले गए। उन्होंने कहा जिसमें  मातृत्व नही वो मा नहीं हो सकती ऐसे ही जिसमें हिंदुत्व नही,वो हिंदू कैसे हो सकता है जिसमे इंसानियत नहीं वो इंसान कैसे हो सकता है 
भाजपा जिलाध्यक्ष नारायण पुरोहित ने राज्य में बढ़ी महंगाई और विधानसभा 2018 के चुनावी घोषणा पत्र के वादों को पूरा नहीं करने पर कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए  कहा कि
देश में 2014 को 19000 गांव में बिजली नहीं थी मोदी सरकार बनते ही 960 दिनों में बिजली पहुंचा दी। मोदी सरकार ने 8 करोड लोगों को गैस कनेक्शन दे दिए दूसरी तरफ कांग्रेस है 10 दिन में कर्ज माफी का वादा किया 3 साल में पूरा नहीं हुआ। महंगी बिजली से बिल में करंट आ रहा है। कांग्रेस ने 3 साल झगड़े में निकाल दिए 2 साल घसीट कर निकाल लेंगे।पुरोहित ने कहा कोरोना काल में केंद्र सरकार ने राज्य में जो मशीनें भेजी उनका राज्य सरकार ने उपयोगी नहीं किया और जंग लग गया।
भाजपा जिलामीडिया प्रभारी चिराग रावल ने बताया कि इस अवसर पर जन आक्रोश रैली में पूर्व राज्यमंत्री ओटाराम देवासी,विधायक समाराम गरासिया, जगसीराम कोली,जिला प्रमुख अर्जुन राम पुरोहित,पूर्व जिला प्रमुख पायल परसरामपुरिया,प्रधान हसमुख कुमार,पूर्व जिला अध्यक्ष कमलेश दवे, लुम्बाराम चौधरी,जिला महामंत्री योगेंद्र गोयल,जिला उपाध्यक्ष दिलीप सिंह मांडणी,नारायण देवासी,मोर्चा जिलाध्यक्ष गणपत सिंह राठौर,भवरलाल मेघवाल, अंशु वशिष्ठ, हेमंत पुरोहित, सुरेश सगरवंसी सभी ने एक के बाद एक प्रदेश सरकार के विरूद्व जमकर हुंकार भरते हुए बढती मंहगाई, बिजली दर, पट्रोल,महिला अत्याचार,बेरोजगारी से लेकर विभिन्न मुदें पर घेरते हुए अपना आक्रोश दिखाया। 
इस अवसर पर प्रधान नितिन बनसल,राधिका देवासी,ललिता कुंवर,जिला महामंत्री जय सिंह राव,रेवदर प्रभारी कालूराम चौधरी, पिंडवाड़ा प्रभारी किरण राजपुरोहित,सभी जनप्रतिनिधि,मोर्चा जिलाध्यक्ष गोपाल माली जिला पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष सहित हजारो कार्यकर्ता एवम आमजन उपस्थित थे।
धरना कार्यक्रम के बाद में सभी कार्यकर्ता रामझरोखा मैदान से रैली के रूप में जिला कलेक्टर पहुंचे जहां पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौपा।
इस दौरान जिलेभर के अनेक कार्यकर्ता और पदाधिकारी प्रदर्शन के दौरान जिला मुख्यालय पहुंचे।अनेक जनप्रतिनिधियों और युवा नेताओं ने भी दमखम दिखाया। कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर पार्टी कई दिनों से इस कार्य के लिए जुटी हुई थी