प्रशासन ने मांगे 100 पुलिस के जवान और मांगी 10 JCB जानिए क्या है पूरा मामला

प्रशासन ने मांगे 100 पुलिस के जवान और मांगी 10 JCB जानिए क्या है पूरा मामला

टोंक

एक गौशाला जिसमें सैकड़ों गाय सहित मवेशी है गौशाला के आसपास की सैकड़ों बीघा सरकारी जमीन पर लोगों ने फसल की बुवाई कर रखा अतिक्रमण। गौशाला से जुड़े लोगों ने अतिक्रमण मुक्त करने के लिए खटखटाया था हाईकोर्ट का दरवाजा जहां से जिला प्रशासन को इस जमीन से अतिक्रमण हटाने के दिए आदेश

टोंक जिले की दूनी तहसील प्रशासन ने लंबे समय बाद आखिरकार करीब एक हजार बीघा चरागाह जमीन से अतिक्रमण हटाने का समय निर्धारित कर दिया है। यह समय तहसील प्रशासन ने हाईकोर्ट के आदेश पर लिया है। 27 व 28 जनवरी को जमीन से अतिक्रमण हटाया जाएगा। इसके लिए 46 अतिक्रमियों की लिस्ट भी तैयार कर ली है। अतिक्रमण हटाने के लिए तहसील प्रशासन ने 100 पुलिसकर्मियों का जाब्ता मांगा है और दूनी पंचायत से 10 जेसीबी मांगी गई है।


क्या है पूरा मामला

दूनी कस्बे से गांधी ग्राम रोड के पास गौशाला है। इसमें सैकड़ों गाय सहित मवेशी है। इस गौशाला के आसपास की सैकड़ों बीघा सरकारी जमीन पर लोगों ने फसल की बुवाई कर अतिक्रमण कर रखा है। इस जमीन को गौशाला से जुड़े लोगों ने अतिक्रमण मुक्त करने के लिए कुछ महीने पहले हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। जहां से जिला प्रशासन को इस जमीन से अतिक्रमण हटाने के आदेश दिए थे। लेकिन लंबे समय से अतिक्रमण नहीं हटाया गया था। इससे गौ-सेवकों को गोवंश के चारे आदि के लिए काफी परेशान होना पड़ रहा है। जिला कलेक्टर  को भी दो-तीन बार ज्ञापन भी दिया गया। आखिरकार कलेक्टर के निर्देश पर तहसील प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने के लिए तैयारियां शुरु कर दी है।