युवा शक्ति ही हैं देश की असली ताकत: डॉ गिल

युवा शक्ति ही हैं देश की असली ताकत: डॉ गिल
फाइल फोटो

उदयपुरवाटी (झुंझुनूं, राजस्थान/ सुमेरसिंह राव) गुढ़ा गौड़जी  पनोरमा वर्ल्ड स्कूल में युवा शक्ति पर एक सेमिनार का आयोजन  पनोरमा स्कूल के संरक्षक डॉक्टर सुमित्रा गिल के मुख्य आतिथ्य में किया गया | जिसमें मुख्य वक्ता डॉ विकास गिल रहे।  डॉ विकास गिल ने अपने संबोधन में युवाओं को आह्वान करते हुए कहा कि आज देश और समाज को सही दिशा देने के लिए युवाओं में जागृति आवश्यक है।  उन्होंने कहा कि युवा शक्ति का तूफान ही हर बाधा को उड़ा सकता है। उन्होंने इस अवसर पर विवेकानंद का उदाहरण देते हुए कहा कि हमें उनसे सीखने की जरूरत है। सबसे पहले उन्होंने ही युवा शक्ति की सृजनात्मक ऊर्जा को पहचान कर कहा था कि उठो जागो और तब तक न रुको जब तक तुम्हें अंतिम लक्ष्य न मिल जाए।l  स्कूल के प्रधानाचार्य वीरेंद्र प्रताप सोहू ने विद्यार्थियों को  विद्यार्थियों को उनके भविष्य के लिए कहा कि संघर्षों की सीमा ही जीत तय करती है। इस इस अवसर पर विद्यालय के जयपाल ओला ,सरोज ओला ,  वीरेंद्र  महल्ला, संदीप गुर्जर ,संदीप शर्मा विकास ओला आदि अध्यापक ने भी भारत के भविष्य के प्रतीक युवाओं को संबोधित किया व आह्वान किया कि स्वामी विवेकानंद की विचारधारा ही देश को एक आध्यात्मिक व वैज्ञानिक दृष्टिकोण वाला देश बना सकती है।कार्यक्रम के अंत में विवेकानंद पर आधारित रोचक प्रश्नोत्तरी का आयोजन हुआ व विजेता विद्यार्थियों को अतिथियों ने पुरस्कृत किया।