हीरवाना में नानी बाई रो मायरो कथा का हुआ शुभारंभ, कलश यात्रा में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब

हीरवाना में नानी बाई रो मायरो कथा का हुआ शुभारंभ, कलश यात्रा में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब

उदयपुरवाटी (झुंझुनूं, राजस्थान/ सुमेरसिंह राव)  चंंवरा क्षेत्र के हीरवाना गांव में स्थित श्री कृष्ण गौशाला में बुधवार को नानी बाई रो मायरो कथा का शुभारंभ किया गया। आदिवासी मीणा सेवा संघ के प्रदेश प्रधान सुरेश मीणा किशोरपुरा ने बताया कि कथा से पूर्व बामलास धाम के महंत बाबा लक्ष्मण दास के सानिध्य में महिलाओं द्वारा चंवरा रघुनाथजी मंदिर से श्री कृष्ण गौशाला हीरवाना तक भव्य कलश यात्रा निकाली गई जो चौफूल्या, भैंसलानी जोहड़ी होते हुए कथा स्थल तक पहुंची। 3 किलोमीटर लंबी इस कलश यात्रा में महिलाएं डीजे की धुन पर नाचते गाते हुए कथा स्थल पहुंची। कलश यात्रा का जगह-जगह ग्रामीणों द्वारा स्वागत किया गया। गौशाला समिति के अध्यक्ष शीशराम खटाना, सुरेश मीणा किशोरपुरा, सरपंच धर्मराज सैनी, पंचायत समिति सदस्या सुनीता कसाणा, सरपंच मोहनलाल सैनी किशोरपुरा, गिरधारी लाल रावत, गोपाल सिंह पोंख द्वारा कथावाचक राजेंद्र बजावा का फूल मालाओं से भव्य स्वागत किया गया। तत्पश्चात कथा का शुभारंभ किया गया। कथा के मध्य में समस्त भक्तों को प्रसाद वितरण किया गया। कथा प्रतिदिन 11:15 से 4:00 बजे तक सुनाई जाएगी। कार्यक्रम के दौरान रामआज्ञा दास महाराज देवी मंदिर ककराना, रामदास महाराज, रघुनाथ दास महाराज मोरिंडा धाम, नेमी दासमहाराज भादवाड़ी, झाबरमल भक्त देव नारायण धाम, रामकरण गुरुजी, कन्हैया लाल गुर्जर, बनवारी लाल जांगिड़, मुकेश कसाणा, शेरसिंह खटाणा, गजराज सिंह शेखावत, सुभाष सैनी, सुरेंद्र सिंह शेखावत, पप्पूराम चावड़ा, दातार सिंह शेखावत, मदन रावत, रामनिवास गुर्जर, भवानी सिंह शेखावत, सुशील शर्मा, बागाराम माली, विश्वेंद्र शेखावत पोंख, धर्मेंद्र सिंह गुढ़ा, राजेश बराला, प्रताप सिंह शेखावत, राजेश स्वामी, सुनील स्वामी, प्रीतम जांगिड़, सुल्तान कसाणा, राधेश्याम जांगिड़, गोपाल शर्मा, जयकिशन शर्मा, अशोक शर्मा सहित काफी संख्या में महिला एवं पुरुष मौजूद रहे।