चोरी का मोटरसाईकिल देने आऐ युवक को दबौचा: मौके पर एक अन्य पीड़ित भी पहुंचा, गाड़ी सीज कर पुलिस युवक को ले गई थाने

चोरी का मोटरसाईकिल देने आऐ युवक को दबौचा: मौके पर एक अन्य पीड़ित भी पहुंचा, गाड़ी सीज कर पुलिस युवक को ले गई थाने

श्रीगंगानगर (राजस्थान/ संजय बिश्नोई) रायसिंहनगर। 11 टीके फाटक पर 6 एलपीएम से चोरी हुए एक मोटरसाईकिल को छोड़ने आये युवकों में एक युवक को भीड़ ने पकड़ लिया, वहीं दूसरा वहां से भागने में कामयाब रहा। आरोपित दोनों अलग-अलग मोटरसाईकिल पर आये थे। घटना आज शाम साढ़े बजे के करीब की है। इसकी सूचना पुलिस की भी दी गई जिसके बाद एएसआई वेदप्रकाश ने मौके पर पहुंच युवक से पूछताछ की। उससे जब पूछताछ के दौरान मोटसाईकिल के कागजात मांगे तो वह उक्त मोटरसाईकिल के कागजात नहीं दिखा पाया। जिसके बाद मोटरसाईकिल को सीज कर युवक व मोटरसाईकिल को थाने लाया गया। सूचना मिलने पर कुछ दिन पहले आरसीएम रोड़ से जनता सेट्रींग के मालिक को किसी ने सूचना दी कि जिस युवक ने आपका मोटरसाईकिल चोरी किया है उसे लोगों ने पकड़ रखा है। आनन-फानन में वहां पर पहुंचे पीड़ित दिनेश कुमार ने उक्त युवक का हुलिया सीसीटीवी में कैद युवक से मिलाया तो बिल्कुल वैसा ही नजर आ रहा था। मौके पर प्रारम्भिक पूछताछ में युवक ने अपना नाम गुरचरण निवासी 30 आरबी बताया। गुरचरण ने बताया कि कल रात उसे उसका दोस्त 3 टीके निवासी हरविन्द्र सिंह खालसा उसे पवन के दीवान का कहकर लेकर गया था, उसने वहां से एक मोटरसाईकिल चोरी करके उसकी नम्बर प्लेट तोड़ दी। प्रत्यक्षदर्शियों को पीड़ित ने बताया कि उन्होंने अपने स्तर पर चोरों की खोजबीन करने पर पता चल पाया। जब चोरों पर दबाव बढ़ा तो उन्होंने किसी प्रकार की कानूनी कार्यवाही न करने की शर्त पर मोटरसाईकिल वापिस देने की बात कही थी। इसी को लेकर गुरचरण एक युवक के साथ मोटरसाईकिल देने के लिए 11 टीके फाटक के पास आया था, लेकिन मौके पर जब युवकों को पकड़ने की कौशिश की तो उसमें से एक युवक भागने में कामयाब रहा वहीं दूसरा युवक गुरचरण पकड़ा गया। जिसको बाद में पुलिस के हवाले कर दिया। अब सबसे बड़ा सवाल ये है कि जिस मोटरसाईकिल पर उपरोक्त लोग पीड़ित का मोटरसाईकिल देने आये थे कहीं वह भी चोरी का तो नहीं है़ प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि यदि पुलिस इन संदिग्ध लोगों से कड़ाई से पूछताछ करें तो पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही चोरियों का बड़ा खुलसा हो सकता है।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है