भारतीय मजदूर संघ ने प्रदर्शन कर अतिरिक्त जिला कलेक्टर के माध्यम से प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

भारतीय मजदूर संघ ने प्रदर्शन कर अतिरिक्त जिला कलेक्टर के माध्यम से प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

सिरोही (राजस्थान/ रमेश सुथार) भारतीय मजदूर संघ जिला सिरोही ने केंद्र के आव्हान पर भारतीय मजदूर संघ के जिला कार्यालय फौजदारों का मंदिर राम झरोखा सिरोही में प्रदर्शन किया । कोरोना गाइड लाइन के अनुसार प्रर्दशन करते हुए संगठन के शिष्टमंडल ने जिला कलेक्टर कार्यालय पर 5 लोगों ने ज्ञापन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम प्रेषित किया ।संगठन के मिडिया प्रभारी गोपालसिंह राव के अनुसार संगठन ने कोरोना गाइडलाइन के सरकारी आदेशों  की पालना तथा जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देश व आदेशों की पालना करते हुए 500 लोगों के विशाल प्रदर्शन को स्थगित किया । जिले से संबंधित जिला कार्यकारिणी तथा यूनिट के अध्यक्ष, मंत्री, कोषाध्यक्ष को साथ लेकर के पहले  संगठन कार्यालय पर प्रदर्शन किया ।तत्पश्चात् संगठन के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह डाबी के सानिध्य में तथा जिला अध्यक्ष गणेश सिंह गुर्जर के नेतृत्व में ज्ञापन सौंपा । शिष्टमंडल में प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र सिंह डाबी , जिला अध्यक्ष गणेश सिंह गुर्जर ,जिला मंत्री सुरेश कुमार प्रजापत,जिला  मीडिया प्रभारी गोपाल सिंह राव ने अतिरिक्त जिला कलेक्टर के माध्यम से ज्ञापन की प्रतियां केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार को पहुंचाई ।कार्यकताओं ने महंगाई तथा मूल्य वृद्धि के विरुद्ध आक्रोश जताते हुए नारे बाजी कर रोष जताया ।संगठन ने केन्द्र व राज्य सरकार से महंगाई पर रोक लगाने की पुरजोर मांग की ।

प्रदर्शन कार्यक्रम में वेलकम से रामसिफत राय ,जेके लक्ष्मी सीमेंट से वना राम देवासी ,देवी लाल गमेती, दानवीर सिंह अल्ट्राटेक सीमेंट से नारायण गरासिया, दलपत सिंह राव ,लीलाराम ,मांगू सिंह भाटी,अल्ट्राट्रेक बलवंत सिंह , मॉडर्न इंसुलेटर आबू रोड से भैराराम देवासी ,चंदन सिंह राव संजय मल्होत्रा उपस्थित रहे ।प्रर्दशन के बाद संगठन कार्यालय पर जिला कार्यकारिणी की बैठक हुई । बैठक में संगठन की रीति - नीति से कार्य करने पर जोर दिया ।संगठन आज्ञा सर्वोपरि है ।प्रत्येक कार्यकर्ता को संगठन की गरीमा के अनुरुप आचरण हेतु निर्देशित किया ।बीएमएस के जिलामंत्री सुरेश प्रजापति ने बताया कि भारतीय मजदूर संघ द्वारा पूरे प्रदेश भर में राजस्थान सरकार के द्वारा अप्रत्याशित मूल्य वृद्धि एवं महंगाई को लेकर ज्ञापन दिया ।  मिडिया प्रभारी राव ने बताया कि आठ सूत्री मांगों के साथ ज्ञापन दिया , जिसमे पेट्रोल की कीमतों को नियंत्रण करने, बिजली बिलों के विद्युत शुल्क, स्थाई शुल्क कम करने , उपभोक्ताओं द्वारा सभी वस्तु की लागत मूल्य की घोषणा की अनिवार्य कर कानून बनवाने, पेट्रोलियम पदार्थ पर राज्य सरकार द्वारा वेट कि दर कम करने , खाद्य तेल, दालो व अन्य खाद्य पदार्थो के मामले में देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए योजना बनाई जाए व, सार्वजनिक निजी क्षेत्रों के श्रमिक के वेतन में बढ़ोतरी करने, आवश्यक वस्तु धारा 3(1) अन्तर्गत दी गई  छूट को हटाने, जैसे विभिन्न ज्वलनशील समस्याओं जैसे  एक ओर पूरा देश कोरॉना महामारी के दौर से गुजर रहा है वहीं बेरोजगारी , महंगाई, मूल्य वृद्धि , श्रमिक मजदूर वर्ग पर हावी हो रही है आम जन जीवन प्रभावित हो रहा है इस अवसर पर जल्द कार्यवाही कर मांग की गई ।