सांवरे सेठ के दरबार में मेला 5 सितम्बर से: प्रसिद्ध श्रीकृष्णधाम श्री सॉवलियाजी में जलझूलनी-एकादशी मेले की तैयारियां पूर्ण

सांवरे सेठ के दरबार में मेला 5 सितम्बर से: प्रसिद्ध श्रीकृष्णधाम श्री सॉवलियाजी में जलझूलनी-एकादशी मेले की तैयारियां पूर्ण

चित्तौड़गढ़ (राजस्थान/ पुष्कर जनवा) मेवाड़ के प्रख्यात श्रीकृष्णधाम श्री सॉवलियाजी मंदिर में भगवान श्री सॉवलिया सेठ का विशाल तीन दिवसीय जलझूलनी एकादशी मेला  5 से  7 सितम्बर तक आयोजित होगा। मेले का शुभारम्भ 5 सितम्बर को दोपहर 12.15 बजे होगा। इस अवसर पर रंग पृष्ठा, उदयपुर के कलाकार मधुराष्टकम नृत्य नाटिका का मंचन करेंगे।

5 को कवि सम्मेलन, कुमार विश्वास सहित कई नामचीन कवि आएंगे:- मंदिर मण्डल अध्यक्ष भैरूलाल गुर्जर ने बताया कि मेले के सांस्कृतिक पक्ष को रुचिकर बनाने के लिए 5 सितम्बर, को रात्रि 9 बजे मण्डफिया बाईपास परिसर मंच पर अखिल भारतीय विराट कवि सम्मेलन आयेजित होगा। कवि सम्मेलन में डॉ. कुमार विश्वास, दिनेश् बावरा, रास बिहारी गौड़, अशोक् चारण, प्रख्यात मिश्रा, पार्थ नवीन, राजकुमार बादल, योगिता चौहान एवं जलज जॉनी द्वारा काव्य पाठ किया जायेगा।
मंदिर मण्डल मुख्य कार्यपालक अधिकारी गितेश श्रीमालवीय ने बताया कि दिनांक 6 सितम्बर को जलझूलनी एकादशी के अवसर पर मण्डफिया बाईपास परिसर मंच पर रात्रि  9 बजे से गुजरात की प्रख्यात भजन गायिका गीता रेबारी की टीम द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी।  इस कार्यक्रम के पश्चात् प्रसिद्ध भजन गायक प्रकाश माली एव टीम द्वारा कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा।  5 एवं 6 सितम्बर को मण्डफिया स्थित सुदामा रंगमंच, मीरा रंगमंच एवं गोवर्धन रंगमंच पर भी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होंगे।

मेल के समापन दिवस के अवसर पर 7 सितम्बर को दिव्यांगों को इलेक्ट्रिक स्कूटियों का वितरण, मंदिर परिक्षेत्र के 16 गांवों के प्रतिभावान छात्रों का सम्मान, उदयपुर के कलाकार कमलेश पटेल का हाथों पर नृत्य, कपिल शर्मा शो के कार्ड थ्रो आर्टिस्ट सन्नी पुरोहित, राजस्थानी नृत्य एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जायेगा। मंदिर मण्डल द्वारा मेले को भव्यता प्रदान करने एवं श्रद्धालुओं को समुचित सुविधा प्रदान करनें हेतु भरसक प्रयास किए जा रहे है।

आकर्षक विद्युत सज्जा होगी मुख्य आकर्षण
मुख्य कार्यपालक अधिकारी गितेश श्रीमालवीय ने बताया कि इस वर्ष मेले का मुख्य आकर्षण भगवान श्री सॉवलिया सेठ के मंदिर पर की गई नयनाभिराम विद्युत सज्जा होगी, जिसे पूर्व वर्षों में की गई सज्जा से भी बेहतर करने का प्रयास किया जा रहा है।

महाप्रसाद के डेढ़ लाख पैकेट बांटेंगे
भगवान श्री सॉवलियाजी सेठ के दरबार में  5 और 6सितम्बर को श्रद्धालुओं के लिए मंदिर मण्डल की ओर से निशुल्क महाप्रसाद की व्यवस्था की गई है। महाप्रसाद की व्यवस्था  5 सितम्बर को शाम 4 बजे से प्रारम्भ होगी। 6 सितम्बर को प्रातः 10 बजे से दोपहर 3 बजे एवं सांय 5 बजे से रात्रि 12 बजे तक रहेगी। लगभग 1.50 लाख महाप्रसाद के पैकेट वितरण की व्यवस्था की गई है।

5 को निकलेगी शोभायात्रा: जलझूलनी एकादशी मेले के अवसर पर 5 सितम्बर को शोभायात्रा निकलेगी। 6 सितम्बर को रथ यात्रा में श्याम इन्टरनेशनल ब्रास बैण्ड, जबलपुर की ओर से प्रस्तुति दी जाएगी।

भगवान की रथयात्रा पर हैलिकॉप्टर से होगी पुष्प वर्षा:- मंदिर के अन्दर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को नियंत्रित करने एवं असुविधा से बचने के लिए इस बार शोभयात्रा से पूर्व कुछ समय के लिए भक्तों के लिए भगवान के दर्शन की व्यवस्था को रोका जाकर भगवान श्री सांवलियाजी के बालस्वरूप के श्रीविग्रह को पुजारियों द्वारा मंदिर के बाहर खडे़ रथ तक परम्परानुसार लाया जाकर रथ में विराजित किया जाएगा। मण्डफिया के ग्रामीणों को पास के जरिए मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। मंदिर के अन्दर एवं सम्पूर्ण शोभायात्रा के दौरान गुलाब-पुष्पों की वर्षा हेलिकॉप्टर के द्वारा की जाएगी।

मंदिर मंडल की अपील : मंदिर मण्डल के अध्यक्ष श्री भैरूलाल गुर्जर, मंदिर मंडल के मुख्य कार्यपालक अधिकारी गितेष श्री मालवीय एवं मंदिर मंडल के समस्त सदस्यगणों द्वारा समस्त भक्त जनों एवं आने वाले श्रद्धालुओं से विनम्र अपील हैं कि मेले में धक्का-मुक्की से बचें। किसी भी अफवाह पर ध्यान नहीं दें। कानून-व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग प्रदान करें। अपने वाहन निर्धारित पार्किंग स्थल पर ही खड़े करें और अपने कीमती सामान को सुरक्षित रखें। भीड़-भाड़ में जेबकतरों, चैन-स्नेचर्स एवं चोर-उचक्कों से सावधान रहें। कोई भी दर्षनार्थी एवं श्रद्धालु घोड़े आदि लेकर नहीं आएं। यदि किसी भी व्यक्ति के द्वारा कानून-व्यवस्था भंग करने का प्रयास किया जाता है, तो उस पर तुरन्त प्रभाव से कानूनी कार्यवाही की जाएगी। मंदिर मण्डल द्वारा आयोजित मेले के समस्त कार्यक्रमों का शांतिपूर्वक आनन्द उठाएं एवं पंक्तिबद्ध होकर बिना धक्का-मुक्की के भगवान श्री सांवलिया सेठ के दर्शन करें एवं शोभायात्रा में भाग ले।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है