एनजीओ से मनरेगा कार्यों का सामाजिक अंकेक्षण कराने का किया विरोध पंचायत समिति के बाहर किया विरोध प्रदर्शन

एनजीओ से मनरेगा कार्यों का सामाजिक अंकेक्षण कराने का किया विरोध पंचायत समिति के बाहर किया विरोध प्रदर्शन

महुआ (दौसा, राजस्थान/ अवधेश अवस्थी) सामाजिक अंकेक्षण संसाधन व्यक्ति संघ ब्लाक महवा ने ग्राम पंचायतों में मनरेगा सहित सामाजिक कार्यों का एनजीओ के माध्यम से कराए जा रहे सामाजिक अंकेक्षण कार्य के विरोध में शुक्रवार को राज्यपाल कलराज मिश्र राजस्थान सरकार के नाम ब्लॉक विकास अधिकारी पंचायत समिति महवा पंचायत समिति महवा में पहुंचकर ज्ञापन देकर विरोध प्रदर्शन किया । 
सामाजिक अंकेक्षण संसाधन व्यक्ति संघ महवा के अध्यक्ष ऋषि कुमार हुडला बताया कि शुक्रवार को राज्यपाल के नाम ज्ञापन में ब्लॉक संसाधन व्यक्ति एवं ग्राम संसाधन व्यक्तियों ने  मनरेगा योजना के अंतर्गत संचालित कार्यों का सामाजिक अंकेक्षण एनजीओ से नहीं करवा कर पहले से कार्यरत ब्लॉक एवं ग्राम संसाधन व्यक्तियों से ही कार्य करवाने का अनुरोध किया गया। शुक्रवार को नए ग्राम संसाधन व्यक्तियों के प्रशिक्षण स्थल पंचायत समिति महवा के बाहर जाकर विरोध किया एवं एनजीओ से कराए जाने वाले सामाजिक अंकेक्षण के आदेश को तुरंत निरस्त करने की मांग की ।
संघ केमीडिया प्रभारी अवधेश अवस्थी ने बताया कि विभाग द्वारा निर्धारित योग्यता व आयु नहीं रखने वाले तथा बिना विज्ञापन के अपने चहेते  अप्रशिक्षित लोगों को एनजीओ के माध्यम से चयन करके सोशल ऑडिट करवाई जा रही है जबकि हम पूर्व में कार्यरत ब्लॉक एवं ग्राम संसाधन व्यक्ति प्रशिक्षण प्राप्त अनुभवी लोगों को बाहर कर दिया है। जबकि हम पुराने लोग 10 -12 साल से सोशल ऑडिट करते आ रहे हैं अगर एनजीओ के लोगों को नहीं हटाया गया तो मजबूरन होकर दौसा जिले के समस्त ब्लॉक एवं ग्राम संसाधन व्यक्ति सभी उपखंड स्तर पर शांतिपूर्ण धरने पर बैठेंगे। 

ज्ञापन देने वालों में महुआ ब्लॉक अध्यक्ष ऋषि कुमार जांगिड़, अवधेश अवस्थी बृजेश कुमार हुडला , अशोक कुमार‌ प्रकाश जाटव कानाराम विजेंद्र सैनी देवेन्द्र प्रजापत, मुकेश कुमार मीणा पप्पू राम वैष्णव गोविंद गुर्जर मंटू राम मीणा उदय राम गुर्जर अनिल कुमार जाटव राम दयाल शर्मा रमन लाल मीणा मानसिंह बेरवा विजय कुमार बेरवा महेश कुमार बेरवा दिलकेश मीणा एवं समस्त ग्राम संसाधन एवं ब्लाक संसाधन व्यक्ति मौजूद रहे

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है