चिंकारा हिरण का मीट पकाते दो गिरफ्तार: आरोपी को 3 दिन की पुलिस रिमांड पर

चिंकारा हिरण का मीट पकाते दो गिरफ्तार: आरोपी को 3 दिन की पुलिस रिमांड पर

बिकानेर के श्रीकोलायत कस्बे से 35 किलोमीटर दूर गांव मियांकोर की रोही में 15 अगस्त के मध्य रात्रि में चिंकारा हिरण का शिकार कर मीट पकाते दो आरोपियों को वन विभाग ने गिरफ्तार कर उनके खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9/51 के तहत मामला दर्ज किया। फिर स्थानीय सेशन न्यायालय में आरोपियों को पेश किया गया , जहां उन्हें 3 दिन के पुलिस रिमांड पर वापस भेज दिया गया। स्थानीय क्षेत्रीय वन अधिकारी वेद प्रकाश ने बताया श्रीजंभेश्वर पर्यावरण एवं जीवरक्षा तहसील शाखा कोलायत के अध्यक्ष एवं खारियावास गांव के निवासी हरीराम पुत्र बृजलाल बिश्नोई ने वन विभाग को प्रार्थना पत्र देकर बताया कि 15 अगस्त की रात्रि को मैं अपने घर से खेत की तरफ जा रहा था, तो रास्ते में मियांकोर निवासी जगुराम उर्फ जगदीश पुत्र धुड़ाराम खेत में छपरा के पास कुछ पका रहा था तो मुझे अंदेशा हुआ , तो मैंने इसका पीछा किया तो पता चला कि वह चिंकारा हिरण का मीट पका रहा था । फिर मैंने तुरंत पुलिस थाना एवं क्षेत्रीय वन अधिकारी कोलायत को फोन से सूचना देकर कार्रवाई की मांग की । 
इसके उपरांत पुलिस थाना एवं वन विभाग टीम रात्रि को ही मौका स्थल रोही में पहुंची, जहां दो आरोपी हिरण का मीट पकाते हुए पकड़े गए हैं। जो रिश्ते में पुत्र पिता है , इस आरोप में जग्गू राम उर्फ जगदीश का पुत्र मुकेश कुमार भी सम्मिलित पाया गया है। जिन्हें पकड़ कर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9 /51 के तहत मामला दर्ज कर वनविभाग की टीम ने आरोपियों को 16 अगस्त को सेशन न्यायालय श्रीकोलायत में पेश किया गया, जहां पर माननीय न्यायालय ने उन्हें 3 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा है।
 श्री जंभेश्वर पर्यावरण एवं जीवरक्षा प्रदेश संस्था के प्रदेश संगठन मंत्री कैप्टन भंवरलाल बिश्नोई ने मौका स्थल का निरीक्षण कर बताया कि इन अपराधियों की शिकायते अक्सर आती रहती है। क्षेत्र में वन्य जीव प्रेमियों ने इस घटना पर आक्रोश जताते हुए बताया कि आरोपीगण लोग शातिर दिमाग के हैं जो अक्सर क्षेत्र में हिरणों का शिकार कर मीट सप्लाई करते हैं, जिसकी गहनता से जांच कर इस बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया जाना चाहिए और शेष बरामदगी की जानी चाहिए। वहीं संस्था के प्रदेश महामंत्री अनिल बिश्नोई ने बीकानेर संभाग के मुख्य वन संरक्षक जेपी चौधरी से दूरभाष पर जानकारी देकर शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने की कार्रवाई करने की मांग की। प्रत्यक्षदर्शीयों का कहना है कि कार्यवाही एक -आधा घंटा पहले होती तो दो दर्जन लोग मीट ले जाते पकड़े जाते।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है