हार्टबीट माने जाने वाले हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर गायब, मरीज की मौत के बाद परिजनों ने किया हंगामा

हार्टबीट माने जाने वाले हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर गायब, मरीज की मौत के बाद परिजनों ने किया हंगामा
हार्टबीट माने जाने वाले हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर गायब, मरीज की मौत के बाद परिजनों ने किया हंगामा
हार्टबीट माने जाने वाले हॉस्पिटल के इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टर गायब, मरीज की मौत के बाद परिजनों ने किया हंगामा

जोधपुर (राजस्थान/ बरक़त खान) जोधपुर शहर का हार्टबीट माना जाने वाला महात्मा गांधी हॉस्पिटल में इमरजेंसी वार्ड में गत दिवस सुबह करीब 7:00 बजे के मध्य डॉक्टर नहीं होने पर मरीज के परिजनों का हंगामा देखने को मिला दरअसल इमरजेंसी में डॉक्टर नहीं होने पर एक महिला की इलाज ना मिलने पर मृत्यु हो गई परिजनों ने हंगामा किया फिर भी इमरजेंसी में एक भी डॉक्टर मौजूद नहीं रहा

महिला के परिजनों ने बताया कि इमरजेंसी में आने वाले मरीज को देखने के लिए सुबह के समय डॉक्टर नहीं मिलते जैसे-जैसे आउटडोर का समय आता रहता है उससे पहले ही डॉक्टर इमरजेंसी वार्ड में नहीं मिलते इससे आने वाले मरीजों को काफी दिक्कतों का सामना देखने को मिलता है वहां पर मौजूद एक भी डॉक्टर नहीं होने के कारण एक महिला की मौत हो गई

वही इस घटना को लेकर परिजनों का हंगामा देखने को मिला और परिजन रोते बिलखते हुए नजर आए वहां पर तैनात गार्ड ने वीडियो बना रहे लोगों को कहा कि वीडियो मत बनाओ डॉक्टर अभी आ जाएंगे लेकिन डॉक्टर नहीं पहुंचे और इलाज न मिलने के कारण एक महिला की मौत हो गई हालांकि इमरजेंसी वार्ड में कुछ नर्सेज दिखाई दी लेकिन डॉक्टर न होने के कारण मरीजों को काफी परेशानी हुई यही वजह है कि सुबह के समय इमरजेंसी में डॉक्टर न रहते हैं और परिजनों को काफी मुश्किल समय से गुजरना पड़ता है

तस्वीरों में आप देख सकते हैं इमरजेंसी वार्ड में एक भी डॉक्टर मौके पर मौजूद नहीं था जिससे परिजनों का आक्रोश देखने को मिला इसी बीच एक महिला ने दम तोड़ दिया और उसकी मृत्यु हो गई।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है