ईंट भट्टो पर हो रहा बाल शोषण: बाल श्रम अधिनियम की उड़ाई जा रही धज्जियां

ईंट भट्टो पर हो रहा बाल शोषण: बाल श्रम अधिनियम की उड़ाई जा रही धज्जियां

वैर (भरतपुर,राजस्थान/ कौशलेंद्र दत्तात्रेय) भुसावर उपखंड में ईट भट्टा और रेस्टोरेंट संचालकों की ओर से खुलेआम नाबालिक बच्चो से कार्य कराया जा रहा है। एनएच 21 जयपुर भरतपुर पर स्थित ढाबा रेस्टोरेंट संचालकों की ओर से नाबालिक बच्चो से बाल मजदूरी कराई जा रही है। जिनका खुले आम शोषण किया जा रहा है कम पैसे देकर ज्यादा भारी भरकम कार्य कराया जा रहा है । इसी प्रकार से वैर भुसावर उपखंड में स्थापित ईट भट्टा पर खुले आम नाबालिक बच्चो से ईट थपाई का कार्य ईंट भट्टा संचालकों की ओर से कार्य लिया जा रहा है। और ईंट भट्टा तथा रेस्टोरेंट संचालकों की ओर से बाल श्रमिक अधिनियमो की खुले आम धज्जियां उड़ाई जा रही है। इन ईट भट्ठों पर नाबालिक बच्चो से बाल श्रमिक का कार्य बे रोक टोक कराया जा रहा है।
ईट भट्टा पर कार्य करने वाले ऐसे बाल श्रमिक जिनके भविष्य को सुनहरा उज्जवल बनाने के लिए  हाथो में कलम और लिखने के लिए कॉपी नोट बुक और पढ़ने के लिए पुस्तक होनी चाहिए थी वे नाबालिक बच्चे इन दिनो ईट भट्ठों पर बाल श्रमिक के रूप में ईंट थापने का कार्य रात दिन कर रहे है। ऐसे नाबालिक बच्चे जो ईंट भट्टो पर कार्य कर रहे है वे अपने  शिक्षा के अधिकार से काफी दूर होकर शिक्षा से वंचित हो रहे है, ईट भट्टा वालो के पास ये नाबालिक बालक बालिका अपने परिजनों के साथ आकर ईंट बनाने में लगे हुए है।
बाल मजदूरो पर होने वाले अत्याचार को रोकने उनके अधिकारों को दिलाने के लिए राजस्थान सरकार ने अपने अधिकारियो और बाल संरक्षण आयोग बाल कल्याण समिति और अन्य सामाजिक संगठन कार्य कर रहे है। वे बाल मजदूरी रोकने में असफल होते नजर आ रहे है वैर भुसावर उपखंड में ईंट भट्टा संचालकों की ओर से बाल मजदूरी कराई जा रही है। बाल मजदूरी को रोकने के लिए राजस्थान सरकार के श्रमिक विभाग के अधिकारियो और स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से ईट भट्टा पर नाबालिक बच्चो से बाल श्रमिक का कार्य कराने वाले ईंट भट्टा संचालकों के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की जा रही है। जिसके कारण ईंट भट्टा संचालक अपनी मनमर्जी पर उतर आए है राजस्थान सरकार के प्रशासनिक अधिकारियों और श्रम विभाग के अधिकारियो की ओर से बाल मजदूरी कराने वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की जा रही है

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है