ट्रेक्टर ट्रेलर में भीषण भिड़ंत,शव निकालने में 10 घंटे लगे

ट्रेक्टर ट्रेलर में भीषण भिड़ंत,शव निकालने में 10 घंटे लगे

कोटा / राजस्थान

कोटा झालावाड हाईवे पर भीषण सड़क हादसा  हुआ जहां सुबह टैक्टर पीछे थ्रेसर मशीन लगाकर झालावाड़ की तरफ से कोटा की ओर आ रहा था। वहीं, 16 टायरों वाला ट्रेलर भी झालावाड़ की तरफ से कोटा की ओर आ रहा था। जगपुरा के पास दोनों में टक्कर हो गई। फिट अनियंत्रित होकर सड़क से 5 फीट नीचे जा गिरे। हादसे में ट्रैक्टर का पीछे का हिस्सा ट्रेलर में दब गया

कोटा के पास नेशनल हाइवे 52 पर हुए भीषण सड़क हादसे में मंगलवार को दो लोगों की मौत हो गई। शव ट्रेलर में इस कदर फंसे थे कि सुबह 3 बजे हुए हादसे के करीब 10 घंटे बाद शवों को बाहर निकाला जा सका। दिन के 3 बज गए। मृतकों की पहचान मेरूकला अजमेर निवासी ड्राइवर महेंद्र कहार व साथी छोटू लाल के रूप में हुई है। पहले ड्राइवर शव मिला। जिसके पीछे की तरफ साथी की लाश चिपकी थी। जो रायपुर छत्तीसगढ़ से लोहे की एंगल भरकर अजमेर जा रहे थे।

सुबह हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे। लोहे की एंगलों को हटाने के लिए करीब 7 बजे जेसीबी भी मंगवाई गई। फिर एक एक करके एंगलों को साइड में किया। दोपहर तक भी केबिन में डेडबॉडी फंसे होने की जानकारी सामने नहीं आई थी। फिर ट्रेलर को सीधा करने के लिए क्रेन मंगवाई गई। जैसे ही क्रेन की सहायता से ट्रेलर को सीधा करने की कोशिश की तो उसमें दो शव फंसे नजर आए। वहीं, ट्रैक्टर के ड्राइवर की तलाश जारी है।