जामा मस्जिद पर पुलिस की निगरानी में सकुशल सम्पन्न हुई ईद-उल-अजहा की नमाज़

जामा मस्जिद पर पुलिस की निगरानी में सकुशल सम्पन्न हुई ईद-उल-अजहा की नमाज़

बदायूं (उत्तरप्रदेश/ शशि जायसवाल/ अभिषेक वर्मा) पिछले गत  समय पूर्व दिन शुक्रवार को कानपुर में हुई हिंसा के बाद बदायूँ पुलिस बिल्कुल अलर्ट पर है। जिसके चलते हर बार शुक्रवार को होने वाली जुमे की नमाज पर बदायूँ पुलिस की निगरानी शुरू हो गई है। खुफिया विंग ने भी कुछ इलाकों में विवाद होने की आशंका जाहिर करते हुए रिपोर्ट दी थी। इसके बाद बदायूँ पुलिस सतर्क पूरी तरह से हो गई है।आप को बता ते चले कि कुछ समय पूर्व उत्तर प्रदेश के कानपुर में  दिन शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कार्यक्रम था। इसी दौरान जुमे की नमाज अदा करने के बाद ही शहर में हिंसा भड़क गई थी। तभी से पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया था। 
जुमे की नमाज को लेकर लखनऊ की कमिश्नरेट पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे।  सुरक्षा को लेकर पुलिस बल की तैनाती कर दी गई थी। वहीं उत्तर प्रदेश के सभी जिलों के सभी थानों में जुमे की नमाज को लेकर धर्मगुरु के साथ बैठक की गई थी। जिसके चलते दिन रविवार 10 जुलाई को ईद उल अज़हा के अवसर पर शांति व्यवस्था से सकुशल से नमाज सम्पन्न कराने को लेकर सतर्कता बढ़ा दी गई थी। 
जिले के सभी थानेदारों  अपने-अपने इलाके क्षेत्र में ईद उल अज़हा की नवाज़ सकुशल सम्पन्न कराते दिखे। इसी क्रम में जनपद की जामा मस्जिद पर डयूटी पर तैनात  कर्तव्यनिष्ठ तेजतर्रार पुलिस अधिकारी इंस्पेक्टर रेनू सिंह ने बताया कि उच्च अधिकारी के निर्देशन में नमाज सकुशल शांतिपूर्वक सम्पन्न हो गई पुलिस द्वारा ड्रोन कैमरे से चप्पे-चप्पे पर नजर रखी गई जामा मस्जिद में बड़ी तादाद में लोगों ने नमाज अदा की और एक दूसरे से गले  मिल कर घर को लौटे गए।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है