अग्निपथ योजना के पुनर्विचार के लिए प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

अग्निपथ योजना के पुनर्विचार के लिए प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

राजसमंद (राजस्थान/ पप्पूलाल कीर) चार साल के लिए सेना में भर्ती की अग्निपथ योजना के खिलाफ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिला कलक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन किया। मांगों को लेकर राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा ।ज्ञापन में कहा गया है कि अग्निपथ योजना पर पुनर्विचार हो ! क्योंकि इस योजना मे युवाओं को 4 साल बाद रिटायर कर दिया जायेगा जो सही नहीं है, इसकी अवधि कम से कम 10 - 15 वर्ष तो होनी ही चाहिए ! यह तो युवाओं के साथ धोखा है ।
इसके साथ यह योजना देशहित मे भी नहीं है क्योंकि केवल 4 साल के लिए सरकार द्वारा ट्रेनिंग का खर्चा किया जा रहा है और बार - बार अस्थायी सैनिकों को रखने से उनकी देश के प्रति प्रतिबद्धता नहीं बन सकने के कारण देश की सुरक्षा के मामले मे संसय होना स्वाभाविक है । युवाओं व देशहित मे ही कार्य हो, किसी विशेष काँरपोरेट के हित मे कार्य न हो !
पिछले 8 वर्षों मे बीजेपी सरकार द्वारा जितनी भी जनता के हित मे  योजनाएं लाई गई, उसमे से 50 % योजनाएं दिखने मे जनहित / देशहित की बताई गई किन्तु हकीकत मे उक्त योजनाएं काँरपोरेट हित मे ही थी और जिसका फायदा भी केवल अड़ानी - अम्बानी को ही क्यों हो रहा है ? तथा जनता व देश को नुकसान क्यों हो रहा है ? 
अभी तक जो योजनाएं काँरपोरेट के हित मे थी, तथा उनका भी परिणाम सामने आ रहा है, इसलिए उन सभी योजनाओं की देश हित मे सामाजिक समीक्षा हो ! जैसे :- रेलवे व एयरपोर्ट का निजीकरण, जीवन बीमा का निजीकरण, सरकारी कम्पनियों का निजीकरण, बैको का निजीकरण, पेट्रोल पम्पों का निजीकरण आदि से जनता / देश का कोई हित नहीं हो रहा है, केवल इनसे काँरपोरेट को ही फायदा हो रहा है ।
आम जनता / आम आदमी को अधिकार है कि जो भी योजना उनके लिए बनाई जाये, उसकी समीक्षा का अधिकार आम जनता को मिले । वह सभी योजनाएं जनहित व राष्ट्रहित मे ही हो, इसके लिए अग्निपथ योजना पर पुन:विचार हो । इस हेतु आम आदमी पार्टी, उक्त अग्निपथ योजना की सामाजिक समीक्षा तथ्यों के आधार पर करने को तैयार है,  इस दौरान जिला कोऑर्डिनेटर CA. दिनेश चंद्र सनाढ्य, संभाग कोऑर्डिनेटर अमित वर्मा, पप्पू लाल कीर, राजेंद्र पटेल, विनीत चौहान आदि अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है