पटवारियों की हड़ताल नौ-वे दिन भी रही जारी: कामकाज हो रहे प्रभावित

पटवारियों की हड़ताल नौ-वे दिन भी रही जारी: कामकाज हो रहे प्रभावित

वैर (भरतपुर, राजस्थान/ कौशलेंद्र दत्तात्रेय) भरतपुर जिले में राजस्थान पटवार संघ के आह्वान पर भुसावर सर्किल के पटवारियों की हड़ताल आज  नौ वे दिन भी जारी रही, अपनी मांगों के समर्थन में भुसावर पटवार संघ सर्किल के समस्त पटवारियों ने भुसावर एसडीएम कार्यालय के सामने एक दिवसीय धरने पर बैठे और राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए राज्य सरकार के नाम एक ज्ञापन भी भिज़बाया गया । पटवार संघ के जिला के संयुक्त मंत्री  राजेंद्र सिंह ने बताया कि राजस्थान सरकार और राजस्थान पटवार संघ के मध्य हुए समझौते की पालना कराने हेतु प्रदेश अध्यक्ष की ओर से राजस्व मंडल अजमेर के कार्यालय के सामने 14 नवंबर से आमरण अनशन पर बैठे हुए है उनके समर्थन में पटवार संघ की ओर से लगातार गत 14नवंबर से लगातार हड़ताल पर चल रहे है ।

राज्य सरकार ओर पटवार संघ के मध्य हुए समझौता की  पालना को लेकर भुसावर उपखंड मुखालय पर पटवारियों ओर से धरना दिया गया और सरकार की दमनात्मक नीति के खिलाफ जमकर विरोध प्रकट किया उन्होंने बताया की जब तक राजस्थान सरकार हमारी मांगों की पालना नही करती है तब तक पटवारियों की हड़ताल जारी रहेगी।  इस अवसर पर ओमप्रकाश, लोकेश कुमार पांडे ,महेश मीना, कुलदीप पांडे ,आदि मौजूद रहे, इधर पटवारियों की लगातार हड़ताल होने के कारण राजस्व के कार्य प्रभावित हो रहे है  वही आमजन के पटवारियों से संबंधित होने वाले कार्य नहीं होने के कारण किसानों और आमजन को भारी परेशानी हो रही है किसानों ने बताया की पटवारियों की हड़ताल होने के कारण उनको बेहद परेशानी हो रही हैं

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... मौजूदा समय में डिजिटल मीडिया की उपयोगिता लगातार बढ़ रही है। आलम तो यह है कि हर कोई डिजिटल मीडिया से जुड़ा रहना चाहता है। लोग देश में हो या फिर विदेश में डिजिटल मीडिया के सहारे लोगों को बेहद कम वक्त में ताजा सूचनायें भी प्राप्त हो जाती है ★ G Express News के लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ईमानदार ना रुका ना झुका..... क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है