झोलाछाप डॉक्टर ने गलत इलाज से मासूम बच्ची की ली जान,बच्ची को था बुखार

झोलाछाप डॉक्टर ने गलत इलाज से मासूम बच्ची की ली जान,बच्ची को था बुखार

बाड़मेर,राजस्थान

11 साल की मासूम बच्ची को बीते तीन दिन से बुखार आ रहा था। जिनके कारण बच्ची की मां व उसका भाई पास के गांव झोलाछापा डॉक्टर के वहां पर लेकर गए।डॉक्टर ने इलाज के लिए इंजेक्शन लगाया तो मासूम बच्ची की तबीयत बिगड़ने लगी। झोलाछाप डॉक्टर ने उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया। गाड़ी बैठाने के दौरान मासूम बच्ची ने दम तोड़ दिया। जिस पर आक्रोशित परिजन व ग्रामीण ने वहीं पर धरना देकर बैठ गए। 

मामला बाड़मेर जिले के सनावड़ा गांव का है। जहां झोलाछाप डॉक्टर द्वारा 11 साल की मासूम बच्ची के गलत इलाज से मौत होने का मामला सामने आया है।परिजनों का कहना है कि लक्ष्मी पुत्री लाभूराम निवासी जाखड़ों की ढाणी (सनावड़ा) को बीते तीन दिन से बुखार आ रहा था। मंगलवार को बच्ची की मां व उसका भाई पास के गांव झोलाछापा डॉक्टर के वहां पर लेकर गए। परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर ने गलत इंजेक्शन लगाने से मासूम बच्ची की इलाज की तबीयत बिगड़ने लगी। झोलाछाप डॉक्टर ने उसे बाड़मेर रेफर कर दिया। गाड़ी बैठाने के दौरान मासूम बच्ची ने दम तोड़ दिया। आक्रोशित परिजन व ग्रामीण ने वहीं पर धरना देकर बैठ गए।

प्रकरण की सूचना पर सदर थाने से पुलिस मौके पर पहुची ओर पूरे मामले की जानकारी ली । परिजनों व लोगों से समझाने का प्रयास किया। करीब तीन घंटे बाद रात 10 बजे परिजन डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवाने के लिए माने। जिस पर हेड कांस्टेबल जितेंद्रसिंह ने बताया कि बच्ची के शव को डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवाया है और रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।