ईद-उल-अजहा व कावंड़ यात्रा को लेकर सीओ ने जारी किया सर्किल हाई अलर्ट: शरारती तत्वों को दी चेतावनी

ईद-उल-अजहा व कावंड़ यात्रा को लेकर सीओ ने जारी किया सर्किल हाई अलर्ट: शरारती तत्वों को दी चेतावनी

बदायूँ (उत्तरप्रदेश/ शशि जायसवाल/ अभिषेक वर्मा) ईद-उल-अजहा और कांवड़ यात्रा को लेकर जनपद बदायूँ के दातागंज सर्किल डिप्टी एस.पी कर्मवीर सिंह ने दातागंज सर्किल में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। इसके साथ सभी थानाध्यक्षों ,चौकी प्रभारियों सहित हल्का उपनिरीक्षको बीट सिपाहियों को अपने क्षेत्र में गश्त करने के आदेश जारी किए है। इसके साथ जिले के सभी संवेदनशील और अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में पैनी नजर रखने के लिए निर्देशित किया है।आगामी 10 जुलाई को ईद-उल-अजहा का त्योहार है। इसके साथ कांवड़ यात्रा भी शुरू होगी। डिप्टी एस.पी कर्मवीर सिंह ने ईद-उल-अजहा और कांवड़ यात्रा की सुरक्षा को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। शहर से लेकर देहात तक के सभी थानों के इंस्पेक्टर तथा एसओ चौकी प्रभारी सहित समस्त कर्मियों  को अलर्ट के आदेश दिए हैं साथ ही उन्होंने गश्त करने के साथ साथ ग्राम प्रधानों के साथ साथ गणमान्य लोगों से भी संपर्क रखने के लिए कहा गया है।इसी क्रम में पुलिस उपाधीक्षक कर्मवीर सिंह ने कोतवाली दातागंज परिसर में पहुँचकर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए ईद उल अजहा (बकरीद) पर्व एवं 10 जुलाई को उसी दिन शुरू होने जाने वाली कावड़ यात्रा के दृष्टिगत कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए विभिन्न समुदाय के धर्मगुरुओं के साथ बैठक की। इस दौरान दातागंज पुलिस उपाधीक्षक कर्मवीर सिंह ने धर्मगुरुओं को संबोधित करते हुए कहा कि अभी तक आपने सभी त्योहारों में सहयोग प्रदान किया है। इसी प्रकार आगे भी सहयोग प्रदान करें। खुले में और प्रतिबंधित पशु की कुर्बानी न हो। कुर्बानी के अवशेष को खुले में न डालें। उनका उचित निस्तारण हो इस चीज का विशेष ध्यान रखा जाना है। उन्होंने बैठक में मौजूद लोगों के सुझावों को सुनते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया और कहा कि यदि किसी भी प्रकार की कोई समस्या होती है तो उसके संबंध में तत्काल पुलिस को  जानकारी दी जाए। जिससे त्वरित कार्रवाई की जा सके।  उन्होंने सभी अधिकारियों कर्मचारियों को निर्देश दिए कि त्योहार से पूर्व ही अपने अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर व्यवस्था सुनिश्चित कर लें। इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।कांवड़ यात्रा के दौरान शराब और मीट की दुकानें पूरी तरह से बंद रहेंगी उपजिलाधिकारी के  अनुमति लेकर  ही कांवड़ यात्रा में कावड़िया डी.जे लेकर जायेगे डी.जे किराए पर देने वाले स्वामियों को कोतवाली दातागंज द्वारा नोटिस पहुंचाया जा चुका है बिना परमिशन से डी.जे का सामान न दे, कांवड़ मार्गो पर अवैध मीट की दूकानों को पहली प्राथमिकता पर बंद कराया जाएगा।  चिकित्सा अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा कांवड़ मार्गो पर चिकित्सीय कैंप लगाएंगे, एंबुलेंस सहित चिकित्सीय दल एवं सभी आवश्यक दवाओं के साथ एंटी वेनम दवाओं की पर्याप्त व्यवस्था रखेंगे। कांवड़ मार्गो को गड्ढामुक्त कराया जाएगा। कांवड़ मार्ग में जलभराव न हों यह सुनिश्चित किया जाए।  कांवड़ मार्ग में अगर कहीं झाडि़यां बढ़ी हुई हैं तो उसे वन विभाग और सिंचाई विभाग तत्काल कटवाएं। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों से कहा कि वह कावड़ मार्ग पर पड़ने वाले सभी जर्जर तारों को तत्काल बदलवाया जाए। ढीले तारों को टाइट कराया जाए। उन्होंने विद्युत अधिकारियों को कांवड़ मार्ग में आने वाले विद्युत खंभों को आठ फीट तक प्लास्टिक से कवर कराने व ट्रांसफार्मर की बैरिकेडिंग कराने के लिए निर्देशित किया जाए। इंस्पेक्टर सौरभ सिंह ने बताया कि ईद व कांवड़ यात्रा के लिए शांति समिति की बैठक आयोजित की गयी है। बैठक में ईद के पर्व पर किसी गांव में कोई समस्या हो तो अवगत कराने के लिए कहा गया। शांति समिति की बैठक में  ईद व कांवड़ यात्रा पर  सभी गणमान्य लोग अपने अपने सुझाव रख सकते हैं पर्व पर किसी गांव में कोई समस्या हो तो अवगत कराए साथ ही कहा कि  कुर्बानी के अवशेष को दफनाए। बताया कि कुछ लोग इन अवशेषों को खुले में डाल देते हैं, जिनको आवारा कुत्ते खींच कर यहां-वहां डाल देते हैं, जिससे कई बार समस्या पैदा हो जाती है। उन्होंने बताया कि लोग निर्धारित स्थान पर ही कुर्बानी करें। साथ ही उन्होंने कांवड़ यात्रा जुलाई से शुरू हो रही है। इसके लिए अपने-अपने गांव में एक शांति समिति बनाकर उनकी सेवा भाव से यात्रा को पूरा कराया जाए। उन्होंने मंदिरों पर विशेष सफाई करने व असामाजिक तत्वों पर निगाह रखने के भी निर्देश दिए। पर्व को सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाए।पर्व के मौके पर चाक चौबंद पुलिस व्यवस्था रहेगी। अगर कोई असामाजिक तत्व गड़बड़ी करता है। तों उसकी मोबाइल पर सूचना दें तवरित कार्रवाई की जाएगी। मालूम हो कि इस साल ईद उल अजहा यानी बकरीद पर्व आगामी 10 जुलाई रविवार को मनाई जाएगी। विधि व्यवस्था की जानकारी देते हुए कोतवाली क्षेत्र के सभी ईदगाह पर नमाज के पूर्व पुलिस बल तैनात रहेगा। बैठक में मौजूद राकेश वर्मा ने अपने विचार रखे और कहा कि दातागंज पुलिस उपाधीक्षक  हमारे दातागंज क्षेत्र के लोगों के लिए जन हितैसी पुलिस अधिकारी मिले है जो कि हर पीड़ित के प्रार्थना पत्र मिलने पर मौके पर जाते है और 72 घन्टे के अदंर निस्तारण कर देते है जिससे कानून व्य्वस्था मजबूत दिख रही है। साथ ही हम उनकी मधुरभाषी भाषा शैली की प्रशंसा करते है और हम सभी बैठक में मौजूद लोग ऐसे पुलिस अधिकारी का ताली बजा कर आभार प्रकट करते है। संभ्रांत व्यक्ति एवं नगर पालिका परिषद के सभासद एम फ़िरोज ने कहा कि गत दिनों पहले हम सभी लोगों आते थे तो पेड़ के नीचे हम लोगों को बैठना पड़ता था जिस कारण काफी बार पक्षी बीट कर देते थे बंदर भी आ जाते थे और वो भी  टॉयलेट कर देते थे इस कारण हम लोगों के कपड़े खराब हो जाते थे ,परन्तु अब कोतवाली परिसर का अच्छा सुंदरीकरण हो गया है सभी को बैठने के लिए यह पत्थर से बनी साफ स्वच्छ जगह , धूप आदि से बचाव हेतु ऊपर लगे टीन सेट,ठंडा साफ जल की व्यवस्था हुई है। हम सभी लोग ऐसे  कर्तव्यनिष्ठ तेजतर्रार पुलिस अधिकारी   इंस्पेक्टर सौरभ सिंह व उनके कदम चिन्हों पर चल रहे कस्वा इंचार्ज हरीश कुमार की अच्छी कार्यप्रणाली की प्रशंसा करते है। साथ ही उच्च अधिकारियों का आभार व्यक्त करते है कि उन्होंने ऐसे पुलिस अधिकारी हमारे दातागंज क्षेत्र को दिए हैं जिनकी वजह से पुलिस विभाग की एक अच्छी छवि बन रही है। जिसको सुन कर डिप्टी एस.पी कर्मवीर सिंह ने  दातागंज इंस्पेक्टर सौरभ सिंह व कस्वा इंचार्ज हरीश कुमार सराहना की।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है