साधु के ब्लाइंड मर्डर से फैली सनसनी: एफएसएल टीम ने घटना स्थल का लिया जायजा

साधु के ब्लाइंड मर्डर से फैली सनसनी: एफएसएल टीम ने घटना स्थल का लिया जायजा

वैर (भरतपुर, राजस्थान/ कौशलेंद्र दत्तात्रेय ) भुसावर भुसावर थाना इलाके में एक अस्सी वर्षीय एक अंधे साधु का शव मंदिर परिसर में पेड़ पर लटके होने की सूचना पर इलाके में सनसनी फ़ैल गई  भुसावर पुलिस ने बताया की भुसावर थाने के गांव महतोली के जंगलों में स्थित एक मंदिर पर रह रहे 80 वर्षीय साधु बुद्धि पुत्र परभाती जाटव का शव मंदिर परिसर में एक पेड़ पर लटका हुआ है। 
सूचना पाकर भुसावर पुलिस सीओ निहाल सिंह और थानाधिकारी मदन लाल मीणा पुलिस जाप्ते के घटना स्थल पर गए और पेड़ पर लटके हुए साधु के शव को नीचे उतरवाया और मृतक साधु बुद्धि जाटव शव को लेकर भुसावर अस्पताल की मोर्चरी पर लाया जा कर भुसावर एसडीएम हेमराज गुर्जर के  निर्देश पर मेडिकल बोर्ड की तीन चिकित्सको की गठित  टीम से पोस्ट मार्टम करा कर शव परिजनों को सौंप दिया है। भुसावर पुलिस ने मृतक साधु बुद्धि पुत्र परभाती जाटव के भतीजे भिखारी पुत्र हुक्म जाटव  की ओर से अज्ञात व्यक्तियों पर हत्या की करने का शंका जताते हुए भुसावर थाने में अभियोग दर्ज कराया है 
इधर मृतक साधु बुद्धि जाटव के भाई गांव महतोली निवासी रामबाबू जाटव ने बताया की उनका भाई गांव से बाहर एक मंदिर में भगवान की भक्ति करता था आज गांव से बाहर मंदिर परिसर में सुबह उनका शव पेड़ पर लटका मिला और साधु आंखों से अंधा था भुसावर पुलिस ने मृतक साधु बुद्धि जाटव के भतीजे भिखारी जाटव की ओर से साधु बुद्धि जाटव की  हत्या की शंका जताते हुए अभियोग दर्ज कराया है।
मदन लाल मीणा (सीआई भुसावर) का कहना है कि भरतपुर से आई विधि विज्ञान प्रयोगशाला के एक्सपर्ट टीम की और से घटना स्थल का मोका मायना किया जा चुका है भुसावर थाना पुलिस ब्लाइंड साधु के ब्लाइंड मर्डर के दर्ज मामले की गहनता से जांच कर रही है। ब्लाइंड मर्डर का जल्दी ही खुलासा किया जाएगा 

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है