चाय का गिलास टूटने पर दुकानदार ने उलाहना दिया तो अपराधियों ने मारी गोली

चाय का गिलास टूटने पर दुकानदार ने उलाहना दिया तो अपराधियों ने मारी गोली

पटना (बिहार / शशि जायसवाल) हालांकि प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन अपराधियों के हौसले लगातार बुलंद होते नजर आ रहे हैं
हाल ही में कंकड़बाग थाना क्षेत्र के पी सी कॉलोनी में एक चाय की दुकान पर गिलास टूटने का विरोध करने पर अपराधियों ने चाय दुकानदार सुनील कुमार के सीने में गोली मार दी और मौके से फरार हो गए घटना पर सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने अपराधियों की छानबीन शुरू कर दी है
हम आपको बता दें कि सुनील कुमार कंकड़ बाग इलाके के मेदांता हॉस्पिटल के पास चाय बनाने का काम करता है मूल तो है पर है समस्तीपुर का रहने वाला है
वही बताया जा रहा है कि सोमवार की शाम नशे में धुत होकर दो बाइक बाइक सवार दुकान पर पहुंचे अपनी बाइक सड़क किनारे खड़ी कर चाय पीने लगे नशे में होने के कारण एक अपराधी ने गिलास गिरा दिया सुनील ने इसका विरोध किया तो दोनों ने उसके साथ गाली गलौज व मारपीट की , कुछ देर में मामला शांत हो गया लेकिन दोनों बाइक सवार वहां से निकल गए उसके बस 15 मिनट बाद उन दोनों के साथ एक और युवक दुकान पर पहुंचा जिसमें से एक बाइक पर बैठा रहा और दो उतर कर उसकी दुकान पर आए और देसी कट्टे से दुकानदार पर गोली चला दी इसके बाद तीनों वहां से फरार हो गए
सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में चाय विक्रेता को एक निजी अस्पताल में ले गए लेकिन गंभीर हालत को देखते हुए उसे पीएमसीएच रेफर कर दिया गया पुलिस घटना की जानकारी जुटाकर अपराधियों की सरगर्मी से तलाश में जुट गई है सीसीटीवी कैमरे तलाशे जा रहे हैं
हम आपको बता दें कि एक ही दिन में बिहार की राजधानी पटना में इससे पहले भी सोमवार को सचिवालय थाना क्षेत्र में विधानसभा के सामने देख पेंट व्यापारी से अपराधियों ने ₹190000 लूट लिए थे वह दूसरी घटना कदम कुआं इलाके की है जहां एक साइबर कैफे में घुस कर अपराधियों ने जमकर तोड़फोड़ कर दी लगातार हुई इन घटनाओं से पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान उठ रहे हैं लोगों का कहना है कि आखिरकार हम किसके भरोसे रहे

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है