भाजपा कार्यकर्ताओं ने मनाया काला दिवस: कांग्रेस सरकार ने की दमन की राजनीति- सोनी

भाजपा कार्यकर्ताओं ने मनाया काला दिवस: कांग्रेस सरकार ने की दमन की राजनीति- सोनी

मकराना (नागौर, राजस्थान/ मोहम्मद शहजाद) भारतीय जनता पार्टी शहर मंडल अध्यक्ष घनश्याम सोनी के नेतृत्व में उपखंड कार्यालय के पास स्थित गांधी पार्क में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा काली पट्टी बांधकर काला दिवस मनाया। शहर मंडल अध्यक्ष घनश्याम सोनी ने कहा की सन् 1975 में जब केंद्र की कांग्रेस सरकार में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा आपातकाल इमरजेंसी की घोषणा कर देश में एक नया अध्याय रच दिया था। इस दिन को पूरे भारतवर्ष में भारतीय जनता पार्टी काले दिवस के रूप में मनाती रही है। इमरजेंसी के दौरान केंद्र की कांग्रेस सरकार द्वारा दमन की राजनीति की गई,  सरकार के विरोधी खेमे के नेताओं को जबरदस्ती जेलों में बंद कर दिया गया, लोगों की जबरदस्ती नसबंदी की गई।
 सरकार का सामंतवादी रवैया हो गया था। सभा को जिला उपाध्यक्ष रमेश चंद्र व्यास, जिला किसान मोर्चा संयोजक प्रेम प्रकाश मुरावतिया, जिला खेलकूद प्रकोष्ठ संयोजक प्रकाश भाकर, भाजपा नेता मोहन सिंह चौहान, एडवोकेट अरविंद कुमार चोपड़ा ने भी संबोधित किया। वक्ताओं ने कहा की कांग्रेस सरकार तानाशाह बन कर राज करती रही है। आज भी इसी नीति के आधार पर कुछ राज्यों में सरकार कार्य कर रही है।  इसीलिए 25 जून को भाजपा काले दिवस के रूप में मनाती है। इस कार्यक्रम में जिला मंत्री महेश काबरा, विधि प्रकोष्ठ जिला संयोजक देवी सिंह बिका, जिला कार्यकारिणी सदस्य राजेंद्र व्यास, गणपत लाल जांगिड़, जिला अल्पसंख्यक मोर्चा महामंत्री शब्बीर गैसावत, जिला प्रवक्ता अफजल भाटी, मंडल उपाध्यक्ष कैलाश चंद शर्मा, मंडल कोषाध्यक्ष बजरंग लाल जाटलिया, मंडल मंत्री शैलेश जोशी, जिला महिला मोर्चा उपाध्यक्ष कल्पना जैन, महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष तारामणि मुंदरा, विजिया बाफना, पार्षद ईश्वर लाल बंजारा, विनोद सोलंकी, ओबीसी मोर्चा महामंत्री प्रीतम सोनी, युवा मोर्चा महामंत्री बाल किशन सैनी, श्री भगवान काबरा, सुभाष चंद्र रेगर, श्याम सुंदर सोलंकी, बाला प्रसाद ओझा, वीर सिंह सोलंकी, चंपालाल जांगिड़, संजय शर्मा, बंसीलाल रेन, मदन लाल मेघवाल सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

बुलंद आवाज के साथ निष्पक्ष व निर्भीक खबरे... आपको न्याय दिलाने के लिए आपकी आवाज बनेगी कलम की धार... ★ हमारे सच लिखने का जज्बा कोई तोड़ नहीं सकता ★ क्योंकि यहां ना जेक चलता ना ही चेक और खबर रुकवाने के लिए ना रिश्तेदार फोन कर सकते औऱ ना ही ओर.... ★ ईमानदार ना रुका ना झुका ★ क्योंकि सच आज भी जिंदा है और ईमानदार अधिकारी आज भी हमारे भारत देश में कार्य कर रहे हैं जिनकी वजह से हमारे भारतीय नागरिक सुरक्षित है